नई दिल्ली : पर्थ में भारत के खिलाफ खेले गए टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने मंगलवार को 146 रन से जीत हासिल की. इस जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया चार मैचों की सीरीज में एक-एक की बराबरी पर पहुंच गया है. टीम ने पहली पारी में 326 और दूसरी पारी में 243 रन बनाए. इसके जवाब में भारतीय टीम पहली पारी में 283 और दूसरी पारी में 140 रन ही बना पायी. इस तरह उसे बड़ी हार का सामना करना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया के लिए नाथन लायन (Nathan Lyon) ने शानदार गेंदबाजी की. उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. Also Read - रवि शास्‍त्री की इस बात को ध्‍यान में रखकर बल्‍लेबाजी के लिए उतरे थे Shardul Thakur, कहा- ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों ने...

Also Read - Shardul Thakur ने बताई आपबीती, मेरे साथ स्‍लेजिंग का प्रयास किया जाता रहा, एक-दो बार तो मैंने...

ऑस्ट्रेलियाई टीम मैच के पहले दिन से ही भारत पर हावी हो गई थी. उसने पहले दिन ज्यादा विकेट नहीं गंवाए. यहां भारतीय गेंदबाज ओपनर जोड़ी को तोड़ने में नाकाम दिखे. लेकिन जसप्रीत बुमराह ने फिंच को 50 रन के स्कोर पर आउट कर भारत को पहली सफलता दिलायी. इस तरह मार्कस हैरिस 70 रन की अहम पारी खेलकर पवेलियन लौटे. इसके बाद ट्रेविस हेड, शॉन मार्श और कप्तान टिम पेन ने उपयोगी पारियां खेलीं. इस तरह टीम ने पहली पारी में 326 रन बनाए. यहां भारत के लिए इशांत शर्मा ने 4 विकेट झटके. जब कि जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव और हनुमा विहारी को दो-दो विकेट मिले. Also Read - वीरेंद्र सहवाग ने अपने ही अंदाज में की शार्दुल-सुंदर की तारीफ, वीवीएस ने कही ये बात

INDvsAUS: पर्थ में शमी का शानदार प्रदर्शन, सही लाइन-लेंथ की वजह से की अच्छी गेंदबाजी

ऑस्ट्रेलिया को ऑल आउट कर भारतीय टीम पहली पारी खेलने उतरी. उसने ऑल आउट होने तक 283 रन बनाए. यहां उसकी बेहद खराब शुरुआत रही. ओपनर खिलाड़ी लोकेश राहुल 2 रन और मुरली विजय शून्य पर आउट हो गए. चेतेश्वर पुजारा 24 रन बनाकर पवेलियन लौटे. लेकिन कप्तान विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे की साझेदारी ने वापसी का मौका दिया. कोहली ने 257 गेंदों का सामना करते हुए 123 रन बनाए. जब कि रहाणे 51 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद कोई भी खिलाड़ी ज्यादा रन नहीं बना सका. यहां से ऑस्ट्रेलिया ने दबाव फिर से बना लिया. टीम के लिए लायन ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट लिए.

AUSvsIND: शमी ने पर्थ टेस्ट में किया करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, तोड़ा रिकॉर्ड

भारत को ऑल आउट करने के बाद ऑस्ट्रेलिया के पास 43 रन की बढ़त थी. लेकिन उसके लिए दूसरी पारी की शुरुआत कम अच्छी रही. ओपनर हैरिस 20 रन बनाकर आउट हुए. जब कि फिंच 25 रन के स्कोर पर पवेलियन लौटे. हालांकि वो चोटिल होने की वजह से तीसरे दिन नहीं खेल पाए थे. लेकिन चौथी दिन बल्लेबाजी करने मैदान पर आए. टीम के लिए उस्मान ख्वाजा ने 72 रन की अहम पारी खेली. वो काफी देर तक टिके रहे. कप्तान पेन ने 37 रन का योगदान दिया. इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 243 रन बनाए. यहां भारत के लिए शमी ने 6 विकेट झटके. उन्होंने 24 ओवर में 56 रन दिए.

सचिन-लारा जैसे दिग्गज खिलाड़ियों से बेहतर हैं विराट, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बयान

ऑस्ट्रेलिया दूसरी पारी के बाद भारत पर पूरी तरह हावी हो गया था. इस वजह से भारत की दूसरी पारी में भी शुरुआत बेहद खराब रही. ओपनर राहुल बिना खाता खोले आउट हुए. पुजारा 4 और कोहली 17 रन ही बना सके. मुरली ने 20 रन का योगदान दिया. रहाणे 30 रन बनाकर पवेलियन लौटे. इस तरह भारत का टॉप बैटिंग ऑर्डर फ्लोप रहा. मैच के आखिरी दिन हनुमा 28 रन और पंत 30 रन बनाकर आउट हुए. टेलएंडर्स ने कोई योगदान नहीं दिया. जब कि ऑस्ट्रेलिया के टेलएंडर्स ने शानदार प्रदर्शन किया.