मेलबर्न: चेक गणराज्य की महिला टेनिस खिलाड़ी पेट्रा क्वितोवा और जापान की युवा खिलाड़ी नाओमी ओसाका शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियन ओपन के खिताबी मुकाबले में आमने-सामने होंगी. ओसाका ने महिला सिंगल्‍स के सेमीफाइनल में चेक गणराज्य की कैरोलीना प्लिस्कोवा और क्वितोवा ने एक अन्य सेमीफाइनल में अमेरिका की डेनियल कोलिंस को हराया.

साल 2016 में चाकू के हमले से उबरने के बाद टेनिस जगत में वापसी करने वालीं क्वितोवा ने फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा है और अपने खेल में मजबूती हासिल करते हुए गुरुवार को साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई. क्वितोवा ने पहली बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में प्रवेश किया है. उन्होंने कोलिंस को 7-6 (7-2), 6-0 से हराया.

कुलदीप ने चहल के लिए बताई अपनी भावनाएं, कहा इस समय आती है आपकी याद

दूसरे सेमीफाइनल में ओसाका ने चेक गणराज्य की टेनिस खिलाड़ी कैरोलीना प्लिस्वोका को मात दी. नाओमी ने प्लिस्कोवा को महिला एकल के सेमीफाइनल में 6-2, 4-6, 6-4 से हराकर खिताबी मुकाबले में कदम रखा है. ओसाका ने पहली बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में प्रवेश किया है.

किताब में दावा- सकलैन मुश्‍ताक नहीं, विराट कोहली के कोच ने सबसे पहले किया था ‘दूसरा’, कैरम बॉल फौजी की देन

पिछले साल ओसाका ने अमेरिकी ओपन के फाइनल में दिग्गज खिलाड़ी सेरेना विलियम्स को हराकर खिताबी जीत अपने नाम करते हुए काफी सुर्खियां बटोरी थीं. ओसाका अगर खिताब जीत लेती है तो पिछले चार साल में अमेरिकी ओपन और ऑस्ट्रेलियाई ओपन लगातार जीतने वाली सेरेना के बाद पहली महिला होगी. वह विश्व रैंकिंग में रोमानिया की सिमोना हालेप को पछाड़कर नंबर वन भी हो जाएगी.