नई दिल्ली : पूर्व कप्तान किम ह्यूज का मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारत के खिलाफ सीरीज के दौरान विराट कोहली से निपटते हुए दबकर नहीं रह सकते और उन्हें दुनिया के इस शीर्ष बल्लेबाज को कड़ी टक्कर देनी होगी. दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण के बाद से आस्ट्रेलिया ने मैदान पर थोड़ा नरम रुख अपनाया है. Also Read - Covid-19 Lockdown: 'पांड्या ब्रदर्स' ने घर को बनाया स्टेडियम! कर रहे हैं जमकर प्रैक्टिस, देखें VIDEO

स्वतंत्र समीक्षा में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को किसी भी कीमत पर जीत दर्ज करने का माहौल तैयार करने का दोषी ठहराया गया जिसके कारण केपटाउन की कुख्यात घटना हुई. ह्यूज को हालांकि भारतीय कप्तान कोहली के साथ मामूली शाब्दिक जंग में कुछ गलत नजर नहीं आता. Also Read - डोनेशन की राशि को लेकर सवाल पूछे जाने पर भड़का पूर्व भारतीय क्रिकेटर, दे डाली ये नसीहत

AUSvsIND: ऑस्ट्रेलिया से मिलेगी टीम इंडिया को चुनौती, ब्रिस्बेन में पहला टी-20 मुकाबला कल Also Read - COVID-19: अक्षय कुमार के 25 करोड़ रुपये दान दिए जाने पर हार्दिक पांड्या ने किया ये कमेेंट

सिडनी मोर्निंग हेराल्ड ने ह्यूज के हवाले से कहा, ‘‘आप दबकर नहीं रहना चाहते. यह उसके (कोहली) खिलाफ नस्ली टिप्पणी या इस तरह की कुछ चीज नहीं है लेकिन उसे घूरकर देखा जा सकता है या कुछ शाब्दिक बाण, यह ऑस्ट्रेलिया का तरीका है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर वह (कोहली) दुनिया का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी नहीं है तो शीर्ष दो या तीन में शामिल है…. मुझे लगता है कि वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी है. जब दुनिया में एक अरब 20 करोड़ लोग आपका समर्थन कर रहे हों और आपसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हों तो दबाव होता है.’’ ह्यूज ने कहा कि अगर दबाव में डाला जाए तो कोहली को कमजोर किया जा सकता है.