दिग्गज लेग स्पिनर शेन वार्न (Shane Warne) का मानना है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को हर प्रथम श्रेणी मैच में स्पिन गेंदबाजों को उतारना चाहिए ताकि देश में स्पिन गेंदबाजी का स्तर बेहतर हो सके जो इस समय तेजी से नीचे गिर रहा है। लंबे फॉर्मेट की बात करें तो ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम में फिलहाल नाथन लियोन ही अकेले विकल्प हैं। Also Read - क्रिस गेल नहीं, हरभजन सिंह को इस बल्लेबाज के खिलाफ गेंदबाजी करना लगता है ज्यादा मुश्किल

पूर्व क्रिकेटर ने ‘द वेस्ट ऑस्ट्रेलियन’ से कहा, ‘‘स्पिनर को हर मैच खेलना चाहिए, चाहे हालात कैसे भी हो। ताकि स्पिनर समझ सके कि पहले या चौथे दिन कैसी गेंद डालनी है। इस समय हालात अनुकूल होने पर ही प्रांतीय टीमें उन्हें चुनती हैं।’’ Also Read - जेपी ड्यूमिनी की ऑल टाइम IPL इलेवन में MS धोनी को जगह नहीं, सिर्फ ये दो भारतीय शामिल

उन्होंने कहा, ‘‘अगर वो स्टेट लेवल पर नहीं खेलेंगे तो सीखेंगे कैसे। स्टेट की टीमों को हर मैच में एक स्पेशलिस्ट स्पिनर रखना चाहिए। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को इसमें प्रयास करने होंगे।’’ Also Read - क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ ने कहा- इस साल टी20 विश्व कप होने की संभावना बेहद कम

वार्न ने कहा कि नाथन लियोन (Nathan Lyon) की जगह लेने के लिए प्रतिभाशाली स्पिनर की कमी है। उन्होंने कहा कि ड्रॉप इन पिचों से स्पिनरों का विकास नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘एक समय में हर स्टेट में हालात अलग होते हैं लेकिन अब कृत्रिम पिचों का इस्तेमाल हो रहा है। इनके अधिक इस्तेमाल से बचना होगा ।’’