ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के मिडिल ऑर्डर बैट्समैन मार्नस लाबुशेन ने साल 2020 की शुरुआत शतक के साथ की है. बीते साल 2019 टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले लाबुशेन नए साल में इंटरनेशनल क्रिकेट में सेंचुरी जड़ने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं.

बुलंदी पर विराट कोहली के सितारे, नए साल में ध्वस्त करेंगे तेंदुलकर, पोंटिंग और ब्रैडमैन के 5 अजेय रिकॉर्ड!

इंटरनेशनल क्रिकेट में नए साल की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमों के बीच टेस्ट मैच से हुई. दोनों टीमों के बीच सीरीज का तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच शुक्रवार से सिडनी में शुरू हुआ जहां ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया.

ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और कुल स्कोर में 39 रन ही जुड़े थे कि ओपनर जो बर्न्स (18) को कॉलिन डी ग्रैंडहोम ने रॉस टेलर के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेज दिया. इसके बाद डेविड वॉर्नर को लाबुशेन का साथ मिला.

दोनों बल्लेबाजों ने दूसरे विकेट के लिए 56 रन की साझेदारी की. वॉर्नर अपने अर्धशतक से 5 रन दूर थे कि नील वेगनर ने उन्हें कॉलिन डी ग्रैंडहोम के हाथों कैच करा दिया.

95 रन के कुल स्कोर पर 2 विकेट गिरने के बाद लाबुशेन को पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ का साथ मिला. दोनों ने सूझबूझ भरी पारी खेलते हुए 156 रन की साझेदारी कर कुल स्कोर को 251 रन तक ले गए.

साल 2020 में भी भारतीय क्रिकेट टीम के सामने वर्ल्ड कप में नॉकआउट से आगे बढ़ने की होगी चुनौती, जानिए पूरा शेड्यूल

स्टीव स्मिथ ने उनका बखूबी साथ देते हुए अपना 28वां टेस्ट अर्धशतक जड़ा. मेजबान टीम ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट पर 283 रन बना लिए. लाबुशेन 130 और मैथ्यू वेड 22 रन बनाकर नाबाद हैं.

लाबुशेन ने पिछले 7 टेस्ट मैचों में चौथा शतक जड़ा

करियर का 14वां टेस्ट मैच खेल रहे लाबुशेन ने 163 गेंदों पर अपना चौथा शतक पूरा किया. उन्होंने इस दौरान 8 चौके और 1 छक्का लगाया. 25 वर्षीय लाबुशेन ने पिछले वर्ष तीसरे नंबर पर उतरकर 64.94 की औसत से कुल 1,104 रन बनाए थे. मौजूदा सीरीज में यह उनका दूसरा शतक है. लाबुशेन का मौजूदा सीजन के 7 टेस्ट में यह चौथा शतक है.

13 टेस्ट में बना चुके हैं 1,185 रन

सिडनी टेस्ट से पहले लाबुशेन ने 13 टेस्ट की 21 पारियों में 56.42 की औसत से कुल 1,185 रन बनाए थे जिनमें 3 शतक और 7 अर्धशतक शामिल हैं.

स्टीव स्मिथ की जगह मिला था मौका

लाबुशेन को पिछले साल एशेज सीरीज के दौरान स्टीव स्मिथ के चोटिल होने के कारण ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम में शामिल किया गया था. इसके बाद से लाबुशेन ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. स्मिथ इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की गेंद पर चोटिल हो गए थे.