ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों की गोल्ड मेडलिस्ट भारतीय महिला पहलवान बबीता फोगाट (Babita Phogat) ने सक्रिय राजनीति के लिए बुधवार को हरियाणा खेल विभाग के उपनिदेशक पद से इस्तीफा दे दिया.  विधानसभा चुनाव में दादरी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रह चुकीं बबीता ने खेल विभाग के प्रधान सचिव को अपना इस्तीफा भेजा है, उनके चचेरे भाई राहुल फोगाट ने पुष्टि करते हुए बताया कि इस पहलवान ने सक्रिय राजनीति के लिए इस्तीफा दिया है.Also Read - बबीता फौगाट की ममेरी बहन ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, कुश्ती के फाइनल में मिली हार के बाद उठाया यह कदम

राहुल ने कहा, ‘खेल विभाग में व्यस्त होने के कारण बबीता के पास राजनीति के लिए कम समय रहता था.  वह अब प्रदेश की राजनीति में पूरी तरह सक्रिय होना चाहती हैं जिसके लिए प्रधान सचिव को इस्तीफा भेजा गया है. ’ Also Read - अंतर्राष्ट्रीय रेसलर बबीता फोगाट ने राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, क्या चुनाव लड़ेंगी?

बबीता ने 2018 में गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में रजत, 2010 दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में रजत और 2014 ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था.  उनके पिता और कोच महावीर फोगाट को द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है.  बबीता 2019 में दादरी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की प्रत्याशी रह चुकी हैं. Also Read - पर्दे की बबीता फोगाट को आई 'दंगल' के दिनों की याद, ऐसे होती थी कुश्ती की तैयारी, देखें VIDEO 

बबीता और कबड्डी खिलाड़ी कविता देवी को 30 जुलाई को खेल विभाग में उप निदेशक के पद पर नियुक्त किया गया था.