थाईलैंड ओपन में भारत का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा और वह किसी भी वर्ग में दूसरे दौर से आगे अपनी चुनौती को नहीं बढ़ा पाया. इसी के साथ गुरुवार को सभी वर्गों में उसके सफर का यहीं पर अंत हो गया. भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल (Saina Nehwal) को दूसरे दौर में हार मिली, जबकि पुरुष एकल में किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) पिंडली की मांसपेशियों में खिंचाव आने के बाद मुकाबले से हट गए.Also Read - Badminton Star Tasnim Mir: ‘तसनीम मीर’ ने बनाया वो रिकॉर्ड जो भारत का कोई और खिलाड़ी नहीं बना सका

इसके अलावा डब्ल्स कैटिगरी में भी सभी भारतीय जोड़ियों का सामना करना पड़ा. दुनिया की 20वीं रैंक वाली खिलाड़ी सायना को स्थानीय खिलाड़ी बुसानान ओ. ने 23-21, 21-14, 21-16 से हराया. यह मैच 68 मिनट चला. सायना की इस हार के साथ टूर्नामेंट के महिला एकल में भारत की चुनौती समाप्त हो गई. दोनों टीमों के बीच यह अब तक का 7वां मुकाबला था. 12वीं रैंक्ड बुसानान ने चार मैच जीते हैं, जबकि सायना के हिस्से 3 मैच आए हैं. Also Read - India Open 2022: अश्मिता को PV Sindhu और प्रणॉय को लक्ष्य सेन ने हराकर सेमीफाइनल में की एंट्री

महिला एकल में सायना के अलावा वर्ल्ड चैम्पियन पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने भी अपनी चुनौती पेश की थी लेकिन उन्हें पहले ही राउंड में हार मिली थी. उधर पुरुष एकल में पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 श्रीकांत चोट के कारण अपने दूसरे दौर के मुकाबले से हट गए. पुरुष एकल में मौजूदा समय में विश्व रैंकिंग में 14वें स्थान पर काबिज श्रीकांत को गुरुवार को अपने दूसरे दौर के मुकाबले में आठवीं सीड मलेशिया के ली जी जिया के खिलाफ कोर्ट पर उतरना था। Also Read - India Open 2022: PV Sindhu क्वॉर्टर फाइनल में, Saina Nehwal बाहर

श्रीकांत की असमय और दुर्भाग्यपूर्ण विदाई के बाद पुरुष एकल में भारत की चुनौती समाप्त हो गई है. इससे पहले, भारत के सात्विकसाइराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी पुरुष युगल वर्ग के दूसरे राउंड के दौर में हार कर बाहर हो गए. सात्विक-चिराग की जोड़ी को इंडोनेशिया के मोहम्मद एहसान और हेंड्रा सेतियावान की जोड़ी ने 34 मिनट तक चले मैच में 21-1, 21-17 से मात दी.

इसके अलावा मिक्स्ड डबल्स में भी भारत को निराशा ही हाथ लगी. सात्विकसाइराज रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी हॉन्ग कॉन्ग की चांग तेक चिंग और एनजी विंग युंग की जोड़ी से हार का सामना करना पड़ा. हॉन्ग कॉन्ग की इस जोड़ी ने 29 मिनट तक चले मुकाबले में भारतीय जोड़ी को 21-12, 21-17 से मात दी. इस हार के साथ टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती भी समाप्त हो गई.

इनपुट: आईएएनएस