भारत के दो दिग्गज बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) की ओलंपिक में एट्री का करारा झटका लगा है. इस साल तोक्यो में होने ओलंपिस खेलों से पहले बैडमिंटन में क्वॉलीफाइ करने के लिए दो ही प्रतियोगिता बची थीं, जिनमें से एक मलेशिया ओपन सुपर 750 टूर्नामेंट को मेजबान देश ने कोविड- 19 के मामले बढ़ने के कारण स्थगित करने का फैसला लिया है.Also Read - PV Sindhu की एकतरफा जीत से कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में भारत को मिला 19वां गोल्‍ड

मलेशिया ओपन के स्थगित होने से साइना नेहवाल और किदाम्बी श्रीकांत जैसे भारतीय खिलाड़ी अब तोक्यो खेलों में जगह नहीं बना पाएंगे. यह 6,00,000 डॉलर इनामी प्रतियोगिता 25 से 30 मई के बीच कुआलालम्पुर में आयोजित की जानी थी. Also Read - Commonwealth Games 2022: किदांबी श्रीकांत ने बैडमिंटन के मेन्स सिंगल में जीता कांस्य पदक, सिंगापुर के खिलाड़ी को दी शिकस्त

विश्व बैडमिंटन संघ (BWF) ने अपने बयान में कहा, ‘आयोजकों और बीडब्ल्यूएफ ने सभी भागीदारों के लिए सुरक्षित टूर्नामेंट वातावरण मुहैया कराने के लिए अपनी तरफ से सभी प्रयास किए. लेकिन हाल में मामले बढ़ने के कारण टूर्नामेंट स्थगित करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था.’ Also Read - Highlights Commonwealth Games 2022 India, Day 7, Birmingham: पैरा पावर लिफ्टिंग में सुधीर ने जीता गोल्‍ड, लॉन्ग जंप में श्रीशंकर को सिल्वर

इसमें कहा गया है, ‘बीडब्ल्यूएफ पुष्टि करता है कि नए कार्यक्रम में होने वाला टूर्नामेंट ओलंपिक विंडो के अंतर्गत नहीं आएगा. नए टूर्नामेंट की तिथियों की बाद में पुष्टि की जाएगी.’ यह फैसला लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना और पुरुष स्टार श्रीकांत की ओलंपिक में जगह बनाने की उम्मीदों के लिए करारा झटका है.

इंडिया ओपन (11 से 16 मई) के स्थगित होने के बाद साइना और श्रीकांत की तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वॉलीफाई करने की उम्मीदें मलेशिया ओपन और फिर सिंगापुर ओपन (एक से छह जून) पर टिकी थीं. भारत के इन दोनों खिलाड़ियों का सिंगापुर में प्रतियोगिता में हिस्सा लेना मुश्किल है क्योंकि उस देश ने भारत से सभी उड़ान निलंबित कर रखी हैं.

इनपुट: भाषा