भारत और बांग्लादेश के क्रिकेट टीमों (INDvBAN) के बीच 3 नवंबर से टी-20 और टेस्ट सीरीज खेली जाएगी। सीरीज शुरू होने से पहले ही बांग्लादेश को तगड़ा झटका लग सकता है क्योंकि उसके टेस्ट और वनडे टीम के कप्तान शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan)  के खिलाफ बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (BCB) कारण बताओ नोटिस (show-cause notice) जारी करने की तैयारी कर रहा है.

मंधाना यह पुरस्कार जीतने वाली तीसरी भारतीय महिला क्रिकेटर बनीं, पुरुषों में बुमराह ने मारी बाजी

दरअसल, ये पूरा मामला एक टेलीकॉम कंपनी से करार करने से जुड़ा हुआ है. शाकिब ने एक टेलीकॉम कंपनी के साथ कॉन्ट्रेक्ट साइन किया है जो बोर्ड के नियमों और शर्तों का उल्लंघन है.

बीसीबी की शर्तो का उल्लंघन करने के मामले में बोर्ड कारण बताओ नोटिस जारी करेगा.

ग्रामीण फोन कंपनी के साथ बतौर एंबेसडर जुड़े हैं शाकिब 

वेबसाइट क्रिकबज की रिपोर्ट के अनुसार, शाकिब हाल में एक एंंबेसडर के रूप में ग्रामीणफोन कंपनी से जुड़े हैं. बीसीबी के खिलाड़ियों के साथ समझौतों के अनुसार, राष्ट्रीय अनुबंध के तहत आने वाले क्रिकेटर टेलीकॉम कंपनी से नहीं जुड़ सकते.

बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन (Nazmul Hasan) ने कहा है कि अगर शाकिब ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

हसन ने बंगाली दैनिक कालेरकांथो से कहा, ‘वह इस तरह के करार (टेलीकॉम कंपनी के साथ) नहीं कर सकते जो हमारे अनुबंध में स्पष्ट है.’

फ्रेंच ओपन बैडमिंटन: सात्विक-चिराग की जोड़ी सेमीफाइनल में, सिंधू की चुनौती खत्म

उन्होंने कहा, ‘हम कानूनी कार्रवाई करने जा रहे हैं. हम इस मामले में किसी को नहीं छोड़ सकते. हम उन्हें और कंपनी को मुआवजा देने को कहेंगे.’

बीसीबी अध्यक्ष ने कहा, ‘मैंने इसके बारे में 23 अक्टूबर को सुना और फिर मुआवजे के लिए ग्रामीणफोन को कानूनी नोटिस भेजने को कहा. मैंने शाकिब को भी एक नोटिस भेजने को कहा है कि ताकि उनका जवाब मिल सके.’

शाकिब शुक्रवार को टीम के अभ्यास सत्र से भी दूर थे. भारत दौरे पर बांग्लादेश की टीम तीन टी-20 और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी.