बांग्लादेश फुटबाल टीम के कोच जैमी डे का मानना है कि उनकी टीम 15 अक्टूबर को जब फीफा विश्व कप क्वालीफायर में विवेकानंद युवा भारती क्रीड़ांगना स्टेडियम में भारत के खिलाफ उतरेगी तो भारत के लिए सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी और कप्तान सुनील छेत्री से सावधान रहना होगा। डे ने कहा, “जैसा की हम जानते हैं कि वो मुख्य खिलाड़ी हैं इसलिए उन पर नजर रखनी होगी।”

डे का मानना है कि संदेश झिंगान के न होने का भारत पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि भारतीय टीम के पास संदेश के अच्छे विकल्प मौजूद हैं। संदेश चोट के कारण इस मैच में नहीं खेलेंगे।

डे ने कहा, “वो शानदार डिफेंडर हैं, लेकिन उनके पास संदेश का स्थान लेने के लिए अन्य खिलाड़ी मौजूद हैं इसलिए मुझे नहीं लगता कि इससे ज्यादा कुछ फर्क पड़ेगा। भारत अपने घर में खेल रही है और उम्मीद है कि उनके समर्थन में भारी भीड़ आएगी।”

भारतीय जूनियर हॉकी टीम ने मलेशिया को हरा किया जीत से आगाज

संदेश की जगह भारत के कोच इगोर स्टीमाक ने राहुल भीके को टीम में चुना है। भीके भी हालांकि ग्रोइन की समस्या से जूझ रहे हैं। डे ने भीके के बारे में कहा, “मुझे लगता है कि मैच तक वो फिट हो जाएंगे।”

डे ने माना कि उनके लिए एशियाई चैंपियन कतर के खिलाफ किए गए प्रदर्शन को दोहराना मुश्किल होगा। डे ने कहा, “मैं हमारी टीम के प्रदर्शन से बेहद खुश हूं। हमें उस प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश करनी होगी जो काफी मुश्किल है।”

बांग्लादेश ने 10 अक्टूबर को अपने घर में कतर का सामना किया था। मेजबान टीम बेहतरीन खेल के बाद भी 0-2 से हार गई थी। ये बांग्लादेश की क्वालीफायर में दूसरी हार थी। उसे अफगानिस्तान ने भी 1-0 से हराया था। भारत और कतर का मैच 10 सितंबर को हुआ था जो गोलरहित ड्रॉ रहा था। बांग्लादेश फीफा रैंकिंग में 187वें पर है जबकि भारत 104 नंबर पर कायम हैं।

12 साल तक इंग्लैंड क्रिकेट की सेवा करने वाले एंडी फ्लावर ने छोड़ा टीम का साथ

डे के मार्गदर्शन में बांग्लादेश ने मई-2018 से लेकर अभी तक कुल 13 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं जिनमें से सात में उसे जीत मिली है।