नई दिल्ली. निदाहस ट्रॉफी में बांग्लादेश ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है. कोलंबो में खेले टूर्नामेंट के अपने दूसरे मैच में बांग्लादेश ने श्रीलंका को 5 विकेट से रौंदते हुए इतिहास रच दिया. ये इस ट्राएंगुलर T20 सीरीज में बांग्लादेश की 2 मैचों में पहली जीत है. इससे पहले अपने पहले मैच में बांग्लादेश को भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. Also Read - WATCH: RCB के डॉयरेक्टर हेसन ने बताया IPL 2021 नीलामी से पहले कैसे बनाई ग्लेन मैक्सवेल को खरीदने की योजना

T20I में सबसे बड़ा स्कोर बनाकर भी हारा श्रीलंका Also Read - Ind vs Eng: चेन्नई पिच विवाद पर बोले रोहित शर्मा, 'इस मामले पर चर्चा की जरूरत नहीं है'

श्रीलंका ने पहले खेलते हुए 6 विकेट खोकर 214 रन बनाए. ये T20 में श्रीलंका का सबसे बड़ा स्कोर था. लेकिन, बांग्लादेश के विस्फोटक तेवर के सामने श्रीलंका का ये बड़ा स्कोर भी बौना साबित हो गया. बांग्लादेश ने 2 गेंद पहले ही 5 विकेट खोकर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया. इस जीत के साथ बांग्लादेश ने कई ऐतिहासिक रिकॉर्ड बनाए. Also Read - कीवी कप्तान केन विलियमसन ने कहा- IPL के लिए टेस्ट चैंपियनशिप मैच मिस करना सही नहीं

ऐसा करने वाली बांग्लादेश पहली एशियाई टीम

इंटरनेशनल T20 क्रिकेट में ये चौथा सबसे बड़ा रन चेज है. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑकलैंड में 244 रन के लक्ष्य का पीछा कर इंटरनेशनल T20 में सबसे बड़ रन चेज का कीर्तिमान बनाया था. दूसरा बड़ा रनचेज वेस्टइंडीज ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ साल 2015 में 232 रन का किया था. वहीं, इंटरनेशनल T20 में तीसरा सबसे बड़ा स्कोर इंग्लैंड ने साल 2016 में वानखेड़े के मैदान पर 230 रन का दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चेज किया है. साफ है कि अंतर्राष्ट्रीय T20 क्रिकेट में सबसे बड़ा स्कोर चेज करने वाली बांग्लादेश चौथी टीम तो है साथ ही ये पहली एशियाई टीम भी है.

श्रीलंका में T20 क्रिकेट में बना नया रिकॉर्ड

श्रीलंका के खिलाफ 214 रन के लक्ष्य का पीछा कर बांग्लादेश ने कोलंबो में अंतर्राष्ट्रीय T20 में सबसे बड़े स्कोर को चेज करने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया. इससे पहले ये रिकॉर्ड श्रीलंका के नाम था जो उसने इसी ट्राएंगुलर T20 सीरीज के पहले मैच में भारत के खिलाफ बनाया था. यही नहीं ये श्रीलंका में खेले किसी भी T20 मैच में सबसे बड़ा चेज है. तमिल यूनियन क्रिकेट एंड एथलेटिक क्लब ने इसे पहले साल 2016 में कोलंबो में ही चिलाओ मैरिएंस क्लब के खिलाफ 210 रन के टारगेट का पीछा किया था.

रहीम बने बांग्लादेश की जीत की कुंजी

श्रीलंका के खिलाफ बांग्लादेश को धमाकेदार शुरुआत मिली. तमीम इकबाल और लिटन दास ने पहले विकेट के लिए 74 रन जोड़े. लेकिन, बांग्लादेश की जीत में सबसे बड़ी भूमिका विकेटकीपर बल्लेबाज मुस्तफिकुर रहीम की रही. रहीम ने धुआंधार पारी खेली और 35 गेंदों पर 72 रन बनाकर नाबाद रहे. रहीम की इस ऐतिहासिक पारी में 5 चौके और 4 छक्के शामिल रहे. रहीम ने सौम्य सरकार के साथ तीसरे विकेट के लिए 51 रन और कप्तान महमुदुल्ला के साथ चौथे विकेट के लिए 42 रन जोड़े. रहीम की तूफानी पारी और दो धमाकेदार साझेदारियों का नतीजा ये हुआ कि मैच बांग्लादेश की झोली में आ गया.

परेरा भी नहीं टाल सके श्रीलंका की 50वीं हार

हालांकि, इससे पहले श्रीलंकाई बल्लेबाजों ने भी सपाट पिच पर जोरदार खेल दिखाया. पहले तो श्रीलंकाई ओपनर्स के बीच 56 रन की बेजोड़ साझेदारी हुई. उसके बाद ऑलराउंडर थिषारा परेरा ने शानदार बैटिंग की नुमाइस की और 48 गेंदों पर 74 रन जड़ दिए. 8 चौके और 2छक्कों से सजी परेरा की इस दमदार पारी का नतीजा ही था कि श्रीलंकाई टीम 214 रन तक पहुंचने में कामयाब रही. इंटरनेशनल T20 के इतिहास में ये 7वां मौका है जब श्रीलंकाई टीम ने 200 प्लस का स्कोर बनाया.

बहरहाल, बांग्लादेश के खिलाफ 214 का स्कोर बनाकर भी श्रीलंका अपनी हार टाल नहीं सका . खास बात ये है कि, निदाहस ट्रॉफी में मिली पहली हार इंटरनेशनल T20 में श्रीलंका की 50वीं हार है.