बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड चाहता है कि ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को आगे बढ़ाए क्योंकि बोर्ड COVID-19 महामारी की वजह से रद्द किए गए आठ मैच खेलने के पक्ष में नहीं है।Also Read - IPL 2022 पर कोरोना का साया, BCCI ने तैयार किया Plan-B, इन दो देशों पर बोर्ड की नजर

महामारी की वजह से बांग्लादेश के आठ टेस्ट मैच रद्द हो गए, जिसमें पाकिस्तान के खिलाफ अप्रैल में एक मैच, जून में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचों की सीरीज, न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचों की सीरीज और श्रीलंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैच शामिल हैं। Also Read - IND vs SA: जसप्रीत बुमराह ने अपने ही अंदाज में लिया मार्को जेनसन से बदला, Video हो रहा है वायरल

क्रिकबज को दिए बयान में बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के क्रिकेट ऑपरेशन्स के चेयरमैन अकरम खान ने कहा, “जब तक ICC टेस्ट चैंपियनशिप के मौजूदा कार्यक्रम को आगे नहीं बढ़ाता, हमारे उन आठ मैचों को खेलने की को संभावना नहीं है।” Also Read - IND vs SA: विराट ने अनूठे तरीके से टीम में फूंकी ऊर्जा, शमी ने तीन गेंद पर दो विकेट निकाल कराई वापसी

उन्होंने कहा, “हम ये देखने का इंतजार कर रहे हैं कि ICC टेस्ट चैंपियनशिप के साथ क्या करता है क्योंकि जब तक ये फेरबदल नहीं किया जाता है, तब तक रद्द होने वाले आठ टेस्ट मैचों को खेलने की शायद ही कोई संभावना है।”

बोर्ड के सीईओ निजामुद्दीन चौधरी ने भी इस बात से सहमति जताई। उन्होंने कहा, “अगर टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच शेड्यूल के हिसाह से जून में होता है तो इन आठ मैचों के होने की संभावना कम है क्योंकि हमारे पास इन मैचों को खेलने के लिए कोई जगह नहीं बची है।”

चौधरी ने आगे कहा, “लेकिन अगर टेस्ट चैंपियनशिप की अंतिम तारीख आगे बढ़ जाती है, तो शायद एक मौका होगा लेकिन तारीख बदलने के बाद भी, अगर कोई मौका होता है तो इसका प्रभाव बाकी शेड्यूल पर भी पड़ेगा क्योंकि 2023 तक हमारा शेड्यूल काफी व्यस्त है।”