बीसीसीआई (BCCI) की सालाना आम बैठक के दौरान इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) की दो नई टीमों के साथ साल 2021 के लिए टीम इंडिया के एफटीपी और ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने जैसे कई मुद्दों पर चर्चा होगी। 24 दिसंबर को होने वाली इस बैठक में तीन नए राष्ट्रीय चयनकर्ताओं और आईसीसी में भारत के प्रतिनिधि की नियुक्ति पर फैसला होगा। Also Read - शुबमन गिल ने किया खुलासा- करियर की शुरुआत में हुई इस घटना के बाद खत्म हो गया बाउंसर का डर

बैठक के एजेंडे में नए उपाध्यक्ष का चुनाव भी शामिल है। बीसीसीआई ने एजीएम बुलाने से पहले सभी मान्य ईकाइयों को 21 दिन पहले 23 बिंदुओं का एजेंडा भेजा है। Also Read - कप्तान अजिंक्य रहाणे के पूछने पर गाबा टेस्ट में चोट के साथ गेंदबाजी को तैयार थे नवदीप सैनी

आईपीएल 2021 की नई टीमें

बैठक का सबसे अहम मुद्दा आईपीएल में दो नई टीमों को शामिल करके इसे दस टीमों का टूर्नामेंट बनाना है। समझा जाता है कि अडानी समूह और संजीव गोयनका की आरपीजी (राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के मालिक) नई टीमें बनाना चाहते हैं जिनमें से एक टीम अहमदाबाद से होगी। Also Read - ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले युवराज सिंह के साथ किए अभ्यास ने शॉर्ट गेंदो का सामना करने में मदद की: शुबमन गिल

जय शाह बनेगे एशिया में बीसीसीआई के प्रतिनिधि

बैठक में इस पर भी बात की जाएगी कि आईसीसी और एशियाई क्रिकेट परिषद में बीसीसीआई का प्रतिनिधि कौन होगा। समझा जाता है कि बोर्ड सचिव जय शाह को ये जिम्मेदारी दी जाएगी।

चयन समिति के अध्यक्ष के साथ तीन नये चयनकर्ताओं का भी चुनाव होना है। बोर्ड के एक सीनियर सूत्र ने बताया, ‘‘चयन समिति क्रिकेट समिति का हिस्सा है। इसके अलावा तकनीकी समिति का भी गठन होना है। ये सभी उप समितियां हैं।’’

भारत का 2021 का ‘फ्यूचर टूर कार्यक्रम’

अंपायरों की उप समिति का भी गठन होगा। इसके साथ ही राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी से जुड़े मसलों पर भी बात की जाएगी। बातचीत में भारत का 2021 का ‘फ्यूचर टूर कार्यक्रम’, अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारी और 2028 लॉस एंजिलिस खेलों में क्रिकेट को शामिल करने की मांग जैसे मुद्दों पर भी बात होगी।