बीसीसीआई के नए अध्‍यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर में क्रिकेट को बढ़ावा देने के संबंध में राज्‍य क्रिकेट संघ से जुड़े एक प्रतिनिधिमंडल से मुंबई में मुलाकात की.

टीम के मेंटर इरफान खान के अलावा कप्‍तान परवेज रसूल और जम्‍मू-कश्‍मीर क्रिकेट संघ के वरिष्‍ठ अधिकारी इस इस मीटिंग में मौजूद थे. जेकेसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘‘सौरव गांगुली ने प्रतिनिधिमंडल की बातें सुनी और राज्‍य में क्रिकेट के विकास के लिए पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया. हमने बीसीसीआई अध्यक्ष से हमें बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने का आग्रह किया है.’’

पढ़ें:- दीपक चाहर को लेकर BCCI ने ट्विटर पर की बड़ी गलती, फैन्‍स बोले-पहले…

जानकारी के मुताबिक भविष्‍य में जम्मू में घरेलू क्रिकेट के मैचों की मेजबानी की योजना की जानकारी सौरव गांगुली को दी गई है. सूत्र ने कहा, ‘‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि जम्मू-कश्मीर के घरेलू मैच एक बार फिर जम्मू में खेले जाएंगे. जम्मू में हमारे पास कालेज का मैदान है और हमारी वहां सुविधाओं में सुधार की योजना है जिससे प्रथम श्रेणी मैचों का आयोजन हो सके.’’

जेकेसीए को हाल के समय में मुश्किल हालात का सामना करना पड़ा है और अधिकारी ने कहा कि उन्होंने बीसीसीआई प्रमुख को आश्वासन दिया है कि अगले डेढ़ महीने में स्थिति स्पष्ट हो जाएगी.

पढ़ें:- जोफ्रा आर्चर ने बताया आखिर क्‍यों वो स्‍टीव स्मिथ के सिर पर गेंद मारने के बाद हंस रहे थे

पठान और रसूल ने हालांकि कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. जम्मू-कश्मीर की सीनियर टीम फिलहाल सूरत में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी ग्रुप लीग मैच खेल रही है. रसूल की गैरमौजूदगी में शुभम पुंडीर टीम की अगुआई कर रहे हैं.