भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 सीजन से पहले विजेता और उप विजेता टीमों को दी जाने वाली  इनामी राशि में भारी कटौती करने का फैसला लिया है. सूत्रों की मानें तो ये राशि पिछले साल (2019) के मुकाबले आधी होंगी. सभी आईपीएल फ्रेंचाइजियों को भेजे सर्कुलर में बोर्ड ने सूचित किया है कि आईपीएल चैंपियन को 20 करोड़ रुपये की जगह अब सिर्फ 10 करोड़ रुपये मिलेंगे. Also Read - IPL फ्रेंचाइजी का खिलाड़ियों को लेकर बड़ा बयान, सता रहा इस बात का डर

टी-20 वर्ल्ड कप में तूफानी बल्लेबाजी करने वाली शेफाली वर्मा बनीं दुनिया की नंबर वन बल्लेबाज Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...

बीसीसीआई के पत्र के अनुसार, ‘खर्चों में कटौती की प्रक्रिया के तहत वित्तीय पुरस्कारों को दोबारा तय किया गया है. चैंपियन टीम को 20 करोड़ रुपये की जगह 10 करोड़ रुपये मिलेंगे. उप विजेता टीम को 12 करोड़ 50 लाख रुपये की जगह छह करोड़ 25 लाख रुपए दिए जाएंगे.’ Also Read - अगस्त-सितंबर में टीम इंडिया का कैंप लगाने के बारे में सोच रही है बीसीसीआई

क्वालीफायर में हारने वाली दो टीमों में प्रत्येक को अब चार करोड़ 37 लाख 50 हजार रुपये मिलेंगे. बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा, ‘सभी फ्रेंचाइजी काफी अच्छी स्थिति में हैं. उनके पास अपनी आय बढ़ाने के लिए प्रायोजन जैसे कई तरीके हैं. यही कारण है कि इनामी राशि को लेकर यह फैसला किया गया.’

हालांकि आईपीएल मैच की मेजबानी करने वाले राज्य संघ को एक करोड़ रुपये मिलेंगे जिसमें बीसीसीआई और फ्रेंचाइजी दोनों 50 लाख रुपये का योगदान देंगे.

‘कोरोना वायरस के कारण IPL 2020 को कोई खतरा नहीं’

यह भी पता चला है कि बीसीसीआई के मध्य स्तर के कर्मचारियों को पहले की तरह उन एशियाई देशों (श्रीलंका, बांग्लादेश, यूएई) की यात्रा के लिए विमान का बिजनेस क्लास का टिकट नहीं मिलेगा जहां उड़ान का समय आठ घंटे से कम है. उद्घाटन मुकाबला मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला जाएगा. फाइनल मैच 24 मई को आयोजित होगा.