भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने सबा करीम के क्रिकेट संचालन प्रभारी के रूप में इस्तीफे के बाद महाप्रबंधक (जीएम) – खेल विकास पद के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं.Also Read - Virat Kohli को वनडे कप्‍तानी से हटाकर BCCI ने गलती की, पाक क्रिकेटर बोले- यह संभव नहीं...

बोर्ड के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी का त्यागपत्र स्वीकार करने के बाद करीम को इस महीने के शुरू में इस्तीफा देने के लिए कहा गया था. इस आवेदन की अंतिम तिथि सात अगस्त है. Also Read - 'फोन उठाओ और एक दूसरे से बात करो': कपिल देव ने विराट कोहली-सौरव गांगुली को देश के बारे में सोचने की सलाह दी

खेल विकास प्रमुख पद पर पिछली बार रत्नाकर शेट्टी थे. शेट्टी मार्च 2018 में सेवानिवृत्त हुए थे. भारत के पूर्व खिलाड़ी करीम को दिसंबर 2017 में महाप्रबंधक क्रिकेट संचालन के रूप में नियुक्त किया गया था. वह घरेलू और महिला क्रिकेट के प्रभारी थे. Also Read - IND vs SA: करारी शिकस्‍त देने के बावजूद ग्रीम स्मिथ ने टीम इंडिया-BCCI को कहा शुक्रिया, जानें क्‍या है वजह ?

बीसीसीआई की वेबसाइट के अनुसार, खेल विकास के महाप्रबंधक, ‘मैच खेलने के नियमों, पिच और आउटफील्ड सहित स्थलों’के अलावा ‘घरेलू मैचों के दौरा कार्यक्रम’को निर्धारित करने और निगरानी के लिए जिम्मेदार होगा.

सबा करीम चौथे सीनियर अधिकारी थे जिन्होंने सौरव गांगुली के अध्यक्षता में चुनी गई टीम से इस्तीफा दिया था. इससे पहले इस महीने के शुरू में बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी ने इस्तीफा दिया था.

सूत्रों के मुताबिक बीसीसीआई घरेलू क्रिकेट के लिए सबा करीम की योजना से संतुष्ट नहीं था. बीसीसीआई के एक सूत्र ने इससे पहले कहा था कि हां, उन्हें इस्तीफा देने को कहा गया था. इसका एक कारण यह है कि वह कोविड-19 महामारी को देखते हुए घरेलू क्रिकेट के लिए कोई ठोस योजना तैयार नहीं कर पाए.