कोरोनावायरस के कारण पैदा हुए संकट के बीच खेल गतिविधियां रुकी हुई हैं. अक्‍टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्‍व कप पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं. इसके बाद भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच द्विपक्षीय सीरीज भी होनी है. भारत के पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि ऐसे दौर में बीसीसीआई जैसा सबसे धीन क्रिकेट बोर्ड आगे बढ़कर लीडर की भूमिका निभा सकता है. Also Read - एक बार फिर यूएई ने बीसीसीआई के सामने रखा IPL आयोजन का प्रस्ताव

स्‍टार स्‍पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड कार्यक्रम में बात करते हुए गौतम गंभीर ने कहा, “कोरोनावायरस के इस दौर में अगर भारत साल के अंत में ऑस्‍ट्रेलिया का दौरा करता है तो मेरी नजर में बीसीसीआई के लिए और सम्‍मान बढ़ जाएगा. बीसीसीआई सबसे अमीर बोर्ड है और ऐसे में उसे आगे आकर स्थिति को संभालना चाहिए तथा उसे राजनेता की भूमिका निभाना चाहिए.” Also Read - आक्रामक स्वभाव के लिए मशहूर कगीसो रबाडा ने कहा- मैं जल्दी आपा नहीं खोता हूं

“बीसीसीआई का यह शानदार कदम है। यह एक बहुत ही सकारात्मक संकेत है. वे शायद बड़ी तस्वीर देख रहे हैं। यह देश के मूड को बदल देगा। सीरीज जीतना एक अलग बात है और वहां जाना बहुत बड़ी बात होगी. यह दोनों देशों के मिजाज को बदल देगा। भारत ही नहीं बल्कि शायद ऑस्ट्रेलिया के लिए भी यह एक बहुत बड़ा कदम साबित होगा.” Also Read - महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 3,000 की मौत, मामले 83,000 के करीब पहुंचे

कुछ दिनों पहले बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने सिडनी मॉनिर्ंग हेराल्ड से कहा कि भारत इस दौरे को लेकर सकारात्मक है. भारतीय खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में सीरीज खेल सकते हैं। यही नहीं विराट सेना मैच से पहले दो हफ्ते तक क्वारांटाइन में रहने को भी तैयार है.”