भारत को 1983 विश्व कप विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले मदन लाल और 2011 में टीम को वर्ल्ड चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले पूर्व ओपनर गौतम गंभीर का बीसीसीआई का क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का सदस्य बनना लगभग तय हो गया है जो 2020 से चार साल के कार्यकाल के दौरान चयन समितियों को चुनेगी. Also Read - IND vs ENG: टी20 के बाद इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज से बाहर हो सकते हैं जसप्रीत बुमराह

Ranji Trophy 2019-20: चेतेश्वर पुजारा ने 13वीं बार जड़ा दोहरा शतक, सौराष्ट्र का पहाड़नुमा स्कोर Also Read - IPL 2021: 14वें सीजन के लिए चुने गए BCCI के वेन्यू से नाखुश हैं पंजाब के सहमालिक नेस वाडिया; पत्र लिखकर पूछा ये सवाल

समिति में भारतीय महिला टीम की पूर्व खिलाड़ी सुलक्षणा नाइक तीसरी सदस्य हो सकती हैं. मुंबई की नाइक ने 2 टेस्ट और 46 वनडे  में भारत का प्रतिनिधित्व किया है. Also Read - IPL 2021: अहमदाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर सकता है आईपीएल नॉकआउट और फाइनल मैचों की मेजबानी

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘मदन लाल और गौतम गंभीर का सीएसी सदस्य बनना लगभग तय है.’ मदन लाल सबसे वरिष्ठ सदस्य होने के नाते इस समिति के प्रमुख होंगे जबकि गंभीर और तीसरे सदस्य उनके सहायक होंगे.

समिति को निवर्तमान अध्यक्ष एमएसके प्रसाद (दक्षिण क्षेत्र) और गगन खोड़ा (मध्य क्षेत्र) के विकल्प को तलाशना होगा. सरनदीप सिंह (उत्तर), देवांग गांधी (पूर्व) और जतिन परांजपे (पश्चिम) के चार साल के कार्यकाल में अभी एक साल बाकी है.

विराट कोहली ने साथी खिलाड़ी इशांत शर्मा को किया ट्रोल, मिला ये जवाब

जूनियर चयन पैनल में भी बदलाव होंगे. समिति के महज एक बार बैठक करने की संभावना है क्योंकि सीनियर चयन समिति में कार्यकाल पूरा कर चुके दो सदस्यों की जगह लेने वालों को चुनना होगा.