सीने में दर्द की शिकायत के बाद हॉस्पिटल पहुंचे BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की एंजियोप्लास्टी की गई है. इस बार गांगुली की बाकी की दो धमनियों में दो स्टेंट डाले गए हैं. 48 वर्षीय गांगुली को इस महीने की शुरुआत में हल्का हार्ट अटैक (Light Heart Attack) आया था, तब गांगुली के चेकअप के बाद यह मालूम चला था कि उनके दिल की तीनों आर्टरी (धमनियों) में ब्लॉकेज है. तब दादा की एक आर्टरी में एंजियोप्लास्टी की गई थी. गुरुवार को डॉ. देवी शेट्टी की अगुआई में एक बार फिर उनकी एंजियोप्लास्टी कर बाकी दोनों धमनियों में स्टेंट डालकर ब्लॉकेज को खोल दिया गया.Also Read - Virat Kohli का कप्तानी छोड़ने का फैसला बिल्कुल सही, अब वह खुल कर खेल पाएंगे: Kapil Dev

देश के मशूहर हार्ट सर्जन और हार्ट विशेषज्ञ देवी शेट्टी ने गांगुली के तमाम परीक्षणों की जांच करने और अस्पताल के डॉक्टरों के साथ चर्चा करने के बाद एंजियोप्लास्टी करने का फैसला लिया. उन्होंने कहा कि इस पूर्व भारतीय कप्तान की धमनियों के ब्लॉकेज हटाने के लिए दो स्टेंट डाले गए. एक सीनियर डॉक्टर ने पीटीआई से कहा, ‘उनकी स्थिति का आकलन करने के बाद हमने एंजियोप्लास्टी करने का फैसला किया.’ Also Read - Virat Kohli ने फोन पर दी थी Sourav Ganguly को जानकारी, किसी ने 'दोबारा विचार' करने को नहीं कहा!

Also Read - विराट कोहली जैसा क्रिकेटर एक पीढ़ी में एक बार आता है; बीसीसीआई ने भारतीय दिग्गज को कहा शुक्रिया

गांगुली की इस एंजियोप्लास्टी को डॉक्टरो की 6 सदस्यीय टीम ने सफलता से अंजाम दिया. अपोलो हॉस्पिटल द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक इस ऑपरेशन में डॉ. आफताब खान, डॉ. अश्विन मेहता, डॉ. देवी शेट्टी, डॉ. अजीत देसाई, डॉ. सरोज मंडल और डॉ. सप्तऋषि बसु शामिल थे. गांगुली की हालत स्थिर है और वह डॉक्टरों की निगरानी में हैं.

इससे पहले बीसीसीआई के अध्यक्ष गांगुली इस महीने के पहले सप्ताह में हॉस्पिटल में तब भर्ती हुए थे, जब वह घर में जिम सेशन कर रहे थे और इस दौरान उनकी आंखों के सामने अंधेरा छा गया और उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के साथ सांस लेने में तकलीफ हुई थी. तब डॉक्टरों ने जरूरत के मुताबिक उनकी एक एंजियोप्लास्ट की थी और वह फिट होकर अपने घर लौट गए थे. बुधवार को एक बार फिर उन्होंने सीने में बेचैनी की शिकायत की, जिसके बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया.

बुधवार और गुरुवार को उनके एक के बाद एक कई जरूरी मेडिकल टेस्ट किए गए. डॉक्टरों ने आज बताया, ‘गांगुली को बुधवार रात अच्छी नींद आई. उन्होंने सुबह हल्का नाश्ता किया.’ इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनका हालचाल जाना. इनके अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी गांगुली की सेहत का हालचाल पूछा था, जबकि माकपा के वरिष्ठ नेता अशोक भट्टाचार्य हॉस्पिटल जाकर उनसे मिले थे.