भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने मीडिया में लीक हो रही खबरों के मामले को गंभीरता ले लेते हुए कड़ा कदम उठाया है। रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई ने सभी अधिकारियों के इस बात की जानकारी दी है कि अगर वो बोर्ड की खबर बाहर लीक करते हैं तो उन्हें नौकरी से निकाला जा सकता है। Also Read - ICC के तीनों फॉर्मेट जीतने वाले दुनिया के इकलौते कप्तान हैं MS Dhoni, जानिए उनसे जुड़े अनसुने रिकॉर्ड्स के बारे में

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक बीसीसीआई ने ईमेल के जरिए ये फरमान जारी किया। मेल में कहा गया, “ये हमारे संज्ञान में लाया गया है कि बीसीसीआई के कुछ कर्मचारी मीडिया में जा रहे हैं और इंटरव्यू दे रहे हैं। ये कर्मचारियों के कॉन्ट्रेक्ट के खिलाफ है और इससे संगठन की महत्वपूर्ण जानकारी को लीक करने का खतरा है।” Also Read - MS Dhoni: बनना था गोलकीपर और बन बैठे विकेटकीपर, टिकट कलेक्‍टर से सर्वश्रेष्‍ठ कप्‍तान तक आसान नहीं रही डगर

ईमेल में आगे लिखा गया, “ये उम्मीद की जाती है कि आप सभी, चाहे जानबूझकर या अनजाने में, जो मीडिया को कोई महत्वपूर्ण जानकारी लीक कर रहे हैं या पदाधिकारियों से अनुमति के बिना साक्षात्कार दे रहे हैं, इस स्थिति को तुरंत संबोधित करेंगे। यदि भविष्य में बीसीसीआई का कोई भी मौजूदा कर्मचारी, बिना पूर्व अनुमति के, किसी भी संचार माध्यम से मीडिया को किसी भी प्रकार की जानकारी देता है, तो उन्हें बिना वेतन सस्पेंशन या फिर नौकरी से निकालने जाने जैसी अनुशासनात्मक कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।” Also Read - BCCI शीर्ष समिति की बैठक 17 को, योग्य पदाधिकारियों को शामिल करने की उठी मांग

खबर के मुताबिक ये मेल बीसीसीआई सेक्रेटरी जय शाह के हवाले से भेजा गया है। मेल ने ये स्पष्ट किया कि सभी कर्मचारियों को मीडिया से बात करने से पहले पदाधिकारियों की अनुमति लेना आवश्यक है।