नई दिल्ली: बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी का मानना है कि हार्दिक पांड्या ने अपने व्‍यक्तिगत जीवन के बारे में जैसी बातें कही हैं, उससे वह मैच फिक्सिंग माफिया का निशाना बन सकते हैं. चौधरी ने कहा है कि फिक्सिंग माफिया अक्‍सर खिलाडि़यों को ‘हनीट्रैप’ में फांसने की कोशिश करते हैं. पांड्या के बातों से लगता है, वे इसके आसान शिकार बन सकते हैं. Also Read - ICC T20I Rankings: के एल राहुल नंबर-2 पर, कप्तान विराट कोहली सातवें स्थान पर बरकरार

Also Read - हार्दिक पांड्या पर जरूरत से ज्यादा निर्भर है टीम इंडिया, टीम इंडिया के पास दूसरा फिनिशर नहीं: लक्ष्मण

पांड्या और उनके साथी केएल राहुल को एक टीवी चैट शो में महिलाओं पर विवादास्पद टिप्पणियों के लिए निलंबन झेलना पड़ सकता है. प्रशासकों की समिति (सीओए) प्रमुख विनोद राय ने हार्दिक पांड्या और लोकेश राहुल पर टीवी शो के दौरान महिलाओं पर विवादास्पद टिप्पणी के लिये गुरुवार को दो वनडे मैचों के प्रतिबंध की सिफारिश की. समिति में उनकी सहयोगी सदस्य डायना इडुल्जी ने यह मामला बीसीसीआई की विधि शाखा के पास भेजा है. Also Read - IPL 2021 Auction KXIP Live: ग्‍लेन मैक्‍सवेल की छुट्टी, मुजीब भी नहीं बना पाए जगह, ये 16 खिलाड़ी हुए रिटेन्‍ड

विज्ञापन की दुनिया में भी जारी है कोहली का ‘विराट’ जलवा, ब्रांड वैल्‍यू के मामले में लगातार दूसरे साल शीर्ष पर

पांड्या की टिप्पणी को महिला विरोधी और सेक्सिस्ट करार दिया गया और चारों ओर से इसकी आलोचना हो रही है. मसला गंभीर होने की वजह से सीओए को बुधवार को उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करना पड़ा. पांड्या ने जवाब में कहा कि वह विनम्रतापूर्वक माफी मांगते हैं और वह दोबारा इस तरह का व्यवहार नहीं करेंगे. राय ने कहा, ‘‘मैं हार्दिक के जवाब से इत्तेफाक नहीं रखता और मैंने दोनों खिलाड़ियों के लिए दो मैचों के प्रतिबंध की सिफारिश की है. हालांकि अंतिम फैसला तब लिया जायेगा जब डायना इसकी अनुमति दे देंगी.’’

पांड्या-राहुल की मुश्किलें बढ़ीं, 2 मैचों के लिए लग सकता है BAN

चौधरी ने सीओए सदस्य डायना एडुल्जी को भेजे गये ईमेल में लिखा है, ‘‘इस तरह की टिप्पणियों का व्यापक असर पड़ सकता है. विश्व भर में मैच फिक्सिंग में शामिल संगठित माफिया ऐसे खिलाड़ियों को निशाना बना सकता है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक अधिकारी पहली चेतावनी खिलाड़ियों को हनीट्रैप जैसी स्थिति से बचने के लिए देते हैं. कार्यक्रम में की गई टिप्पणियों से लगता है कि ये खिलाड़ी इसमें फंस सकते हैं.’’