भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने रविवार भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) और खेल मंत्रालय के अनुरोध पर ओलंपिक जाने वाले भारतीय दल की मदद के लिए 10 करोड़ रूपये देने का ऐलान किया।Also Read - Tokyo Olympics 2020 Day 10 Live Updates: PV Sindhu की नजरें दूसरे ओलंपिक मेडल पर, मु्क्केबाजी से भी आस

बीसीसीआई की आपात शीर्ष परिषद बैठक के दौरान इस संबंध में फैसला लिया गया जिसमें बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और सचिव जय शाह (Jay Shah) ने हिस्सा लिया। Also Read - बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए रोहित-कोहली से सीख लेने की कोशिश करते हैं रिषभ पंत

बीसीसीआई के बयान के अनुसार, ‘‘बीसीसीआई ने भारतीय खिलाड़ियों की हर तरह से मदद करने का फैसला किया। आईओए और खेल मंत्रालय के अनुरोध के बाद बीसीसीआई की शीर्ष परिषद ने आईओए का सहयोग करने का फैसला किया जिसके लिये 10 करोड़ रूपये से आर्थिक मदद की जायेगी। Also Read - India vs England: रविवार को इंग्लैंड के लिए रवाना होंगे सूर्यकुमार यादव, पृथ्वी शॉ

बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘‘इस कोष का उपयोग तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई करने वाले हमारे शीर्ष खिलाड़ियों की तैयारियों और अन्य उद्देश्यों के लिये किया जायेगा। खेल मंत्रालय और भारतीय ओलंपिक संघ से बात करने के बाद भुगतान का तरीका तय किया जाएगा।’’

तोक्यो ओलंपिक खेल 23 जुलाई से शुरू होंगे। किट प्रायोजक के तौर पर ‘लि निंग’ के हटने के बाद बीसीसीआई द्वारा दी जाने वाली इस राशि से निश्चित रूप से दल की कई तरीकों से मदद होगी जिसमें ट्रेनिंग और तैयारियां शामिल हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई हमेशा ओलंपिक खेलों के विकास में मदद करने में यकीन करता रहा है और ऐसा पहली बार नहीं है जब इतनी बड़ी राशि दान दी गयी हो।’’

इसके लिये आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने बीसीसीआई और खेल मंत्रालय को शुक्रिया कहा। उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई की शीर्ष परिषद ने खेल मंत्रालय के अनुरोध के बाद रविवार को आपात बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी दी। बीसीसीआई और खेल मंत्रालय को शुक्रिया।’’