नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम जब भी मैदान में उतरती है तो भारतीय क्रिकेट प्रेमी जमकर इसका मजा लेते हैं, लेकिन यदि भारत का कोई मैच दिवाली के आस-पास या फिर दिवाली के दिन हो जाए तो मैच और दिवाली दोनों का ही मजा दुगना हो जाता है. लेकिन अब क्रिकेटे प्रेमियों के लिए ऐसी खबर आ रही है जिससे वे थोड़े से मायूस हो सकते हैं. जानकारी के अनुसार अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने दिवाली के आस पास भारत के मैचों को आयोजित न कराने का फैसला लिया है.

स्टीव स्मिथ ने दर्ज किया एक और रिकॉर्ड, टेस्ट क्रिकेट इतिहास के बने पहले बल्लेबाज

बीसीसीआई के इस फैसले में उसके साथ आधिकारिक प्रसारण कर्ता स्टार स्पोर्ट्स ने भी शामिल है. दोनों लोगों का मानना है कि दिवाली के समय मैच होने से ज्यादा तवज्जो नहीं मिलती और दर्शक भी कम आते हैं. बोर्ड के एक सूत्र ने बताया कि स्टार और बीसीसीआई के बीच हुई एक बैठक में इसका फैसला लिया गया है. फिलहाल अभी तक इस बात की कोई ऑफीशियल जानकारी नहीं आई है.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कप्तान कोहली के साथ युवा शुरू करेंगे टी20 विश्व कप की तैयारियां

एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि जब हम घरेलू मैचों के आयोजन की रणनीति बनाते है तो उसमें कई पहलुओं पर ध्यान दिया जाता है जिसमें व्यूअरशिप और प्रशंसक एक महत्वपूर्ण पैमाना होता है. ब्रॉडकास्टर स्टार स्पोर्ट्स ने एक रिसर्च में यह पता लगाया कि दिवाली के समय मैच को ज्यादा अहमियत नहीं दी जाती क्योंकि लोग अपने परिवार के साथ समय बिताना चाहते हैं. अधिकारी ने कहा इससे खिलाड़ियों को भी आराम मिलेगा और वे भी अपने परिवार के साथ त्योहार मना सकेंगे.

लंदन का मेयर बनना चाहता है भारतीय मूल का यह स्पिनर, मैदान में वापसी के भी दिए संकेत

उन्होंने कहा इस बार भी कुछ ऐसी ही रणनीति है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत का तीसरा टेस्ट मैच 23 अक्टूबर को खत्म हो रहा है और दिवाली का पर्व 27 अक्टूबर है जिससे खिलाड़ियो को भी आराम मिलेगा और आगे के मैचों के लिए फ्रेश माइंड से मैदान में वापसी कर सकेंगे.