भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान अंजुम चोपड़ा आज यानी बुधवार (20 मई 2020) को अपना 43वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं. अंजुम किसी नाम का मोहताज नही हैं. उन्होंने भारत की ओर से 127 वनडे इंटरनेशनल, 12 टेस्ट और 18 टी-20 मैच खेले हैं. Also Read - जब इन भारतीय महिला सलामी बल्लेबाजों ने 320 रन की साझेदारी कर वनडे में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

नई दिल्ली में जन्मीं भारत की इस बाएं हाथ की बल्लेबाज ने टेस्ट मैचों में 30.44 की औसत से कुल 548 रन बनाए हैं जिसमें 4 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 98 रन रहा है. Also Read - महिला ओपनर स्मृति मंधाना को Lockdown में खल रही इस चीज की कमी, बोलीं अब तो...

करियर में एक शतक लगाया  Also Read - महिला IPL को लेकर पूर्व कप्तान का बड़ा बयान, बोलीं-यदि हम टी-20 वर्ल्ड कप जीत लेते तो...

अंजुम ने वनडे मैचों में 31.38 की औसत से कुल 2856 रन बनाए जिसमें 1 शतक और 18 अर्धशतक शामिल है. उनका वनडे में सर्वाधिक उच्च स्कोर 100 रन रहा है. टी-20 में 66.7 की स्ट्राइक से अंजुम ने 241 रन बटोरे हैं.

अंजुम 100 वनडे मैच खेलने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर हैं. उनके नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 3645 रन दर्ज है. क्रिकेट से संन्यास के बाद अंजुम इनदिनों कमेंट्री पैनल की शोभा बढ़ा रही हैं.

वर्ष 2002 में टीम इंडिया की कप्तानी बनीं 

साल 2002 में अंजुम को टीम इंडिया का कप्तान नियुक्त किया गया. उनकी अगुआई में भारतीय महिला टीम ने कई उपलब्धियां दर्ज की. उनकी कप्तानी में महिला टीम ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीती.

2007 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया

अंजुम को साल 2007 में अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. इसके बाद 2014 में उन्हें ‘ पद्म श्री’ अवॉर्ड दिया गया. वर्ष 2017 में फिरोज शाह कोटला मैदान के गेट नंबर-3 और 4 को अंजुम चोपड़ा के नाम पर रख दिया गया था.

17 साल की उम्र में किया था डेब्यू

अंजुम ने 17 साल की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था. 20 मई 1977 को जन्मी अंजुम ने 12 फरवरी 1995 को न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे इंटरनेशनल में डेब्यू किया था. उनकी कप्तानी में महिला टीम को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में व्हाइटवॉश का सामना करना पड़ा था.