भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर और वर्तमान में टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री आज यानी (27 मई 2020) बुधवार को 58वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. शास्त्री का जन्म साल 1962 में मुंबई में हुआ था. उन्होंने बतौर बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज के रूप में शुरुआत की थी लेकिन बाद में शास्त्री ने खुद को बैटिंग ऑलराउंडर बना लिया. Also Read - पूर्व विकेटकीपर का सुनील गावस्‍कर पर तंज, नेट्स में थे बेहद खराब खिलाड़ी

साल 1985 में शास्त्री को धमाकेदार बल्लेबाजी के लिए वर्ल्ड चैंपियनशिप क्रिकेट में चैंपियंस ऑफ चैंपियंस चुना गया था. साल 1983 में जब टीम इंडिया वर्ल्ड चैंपियन बनी थी शास्त्री उस टीम का हिस्सा थे. बैटिंग में लोअर ऑर्डर से शुरुआत करने वाले शास्त्री को बाद में प्रमोट कर टॉप ऑर्डर का बल्लेबाज बना दिया गया जहां पर उन्होंने कई वर्षों तक राज किया. Also Read - हाफिज सईद कहे जाने पर भड़के इरफान पठान ; कहा- कितनी गिर गई है हमारी मानसिकता

शास्त्री अपने क्रिकेट करियर में कप्तान नहीं बन पाए हालांकि वह उप कप्तान जरूर रहे. घरेलू क्रिकेट में शास्त्री ने जरूर बॉम्बे टीम की अगुआई की. उनकी कप्तानी में बॉम्बे की टीम 1993-94 में रणजी चैंपियन बनने में सफल रही थी. Also Read - संजू सैमसन ने कहा: विराट कोहली से अनुशासन सीखें युवा क्रिकेटर

न्यूजीलैंड के खिलाफ 1981 में किया था टेस्ट डेब्यू 

न्यूजीलैंड के खिलाफ 1981 में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले इस पूर्व ऑलराउंडर ने 80 टेस्ट मैचों में 11 शतक और 12 अर्धशतकों की मदद से कुल 3830 रन बनाए जिसमें 206 रन उनका हाईएस्ट स्कोर रहा. शास्त्री ने 150 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 4 शतक और 18 अर्धशतक के साथ कुल 3108 रन बनाए जिसमें 109 रन उनका बेस्ट स्कोर रहा. गेंदबाजी में शास्त्री ने उपरोक्त टेस्ट में 151 जबकि वनडे में 129 विकेट अपने नाम किए.

साल 1994 में किया इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा

साल 1994 में इस खिलाड़ी ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया. पहली बार वह टीम इंडिया के साथ साल 2007 में बतौर मैनेजर के रूप में जुड़े. उनका पहला दौरा बांग्लादेश का रहा. शास्त्री आईसीसी क्रिकेट कमेटी में (2009 से 2016 तक) में बतौर सदस्य रहे. साल 2014 में टीम इंडिया के डायरेक्टर पद संभालने से पहले उन्होंने कमेंट्री बॉक्स की शोभा बढाई. यानी उन्होंने कमेंटेटर के रूप में काम किया. साल 2016 में शास्त्री ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया लेकिन फिर 20017 में उन्हें हेड कोच बना दिया.

शास्त्री के मार्गदर्शन में टीम इंडिया की उपलब्धियां

ऑस्ट्रेलिया में 2018-19 में जीती पहली बार टेस्ट सीरीज

साल 2018-19 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर 2-1 से टेस्ट सीरीज जीती. टीम इंडिया की ऑस्ट्रेलिया में ये पहली टेस्ट सीरीज जीत थी. ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाले शास्त्री पहले भारतीय कोच तो विराट कोहली पहले भारतीय कप्तान बने.

दक्षिण अफ्रीका में जीती वनडे सीरीज (2018)

भारतीय टीम ने साल 2018 में दक्षिण अफ्रीका में पहली बार वनडे सीरीज जीती. टेस्ट सीरीज 1-2 से गंवाने वाली टीम इंडिया ने इस दौरे पर मेजबान टीम को 6 मैचों की वनडे सीरीज में 5-1 से मात दी.

घर में लगातार 11 टेस्ट सीरीज जीती

भारतीय टीम ने घरेलू टेस्ट में लगातार 11 सीरीज जीतने का रिकॉर्ड बनाया. टीम इंडिया ने ये उपलब्धि दक्षिण अफ्रीका को हराकर हासिल की. ये कारनामा करने वाली टीम इंडिया पहली टीम है.