केन्या के 41 वर्षीय दिग्गज धावक मारिको किपचुंबा ने रविवार को बीजिंग मैराथन का खिताब अपने नाम किया। मारिको ने 2 घंटे और 11 मिनट में इस मैराथन को पूरा किया और इसी के साथ वह 2011 के बाद इस मैराथन को जीतने वाले पहले गैर इथियोपियाई एथलीट बन गए।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार इस मैराथन में इथोपिया के बेरहानु तोल्चा (2:11:37) को दूसरा और जिम्बाब्वे के विरिमाई जुवावो (2:14:25) को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ।

बीजिंग मैराथन 2015 की महिला स्पर्धा में इथियोपिया की धाविका बेथेलम चेरनेट (2:27:31) ने जीत हासिल कर खिताब अपने नाम किया। वहीं इथियोपिया की ही अबेबेक बेकले को दूसरा और डीपीआर कोरिया की सिन योंग सुन को तीसरा स्थान हासिल हुआ।

इस साल बीजिग मैराथन 2015 के 35वें संस्करण में 30,000 धावकों ने हिस्सा लिया।

पहली बीजिग मैराथन साल 1981 में आयोजित हुई थी और इसे अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) द्वारा गोल्ड लेबल रोड रेस का प्रमाण प्राप्त है।

मैराथन की पुरुष स्पर्धा में सबसे बेहतरीन रिकार्ड इथियोपिया के तादेसे तोला के नाम है। साल 2013 में आयोजित इस मैराथन में तादेसे ने इस मैराथन को दो घंटे सात मिनट और 16 सेकेंड में पूरा किया था।