पिछले साढ़े चार साल से क्रिकेट के मैदान से दूर चल रहे स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) 2021-22 एशेज के पहले टेस्ट के साथ इंग्लैंड टीम में वापसी करेंगे।Also Read - Ashes 2021: Steve Smith को उप कप्तान चुने जाने से खफा Ian Chappell, याद दिलाया 'सैंडगेट प्रकरण'

स्टोक्स ने 26 जुलाई को नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स के लिए द हंड्रेड टूर्नामेंट में खेलते समय चोटिल होने के बाद से कोई प्रतिस्पर्धी मैच नहीं खेला है। वो भारत के खिलाफ इंग्लैंड की घरेलू टेस्ट सीरीज में भी नहीं खेले थे। वहीं उन्हें टी20 विश्व कप के लिए इंग्लैंड के स्क्वाड में भी जगह नहीं दी गई थी। Also Read - Ashes 2021-22: Pat Cummins बने ऑस्ट्रेलिया के नए टेस्ट कप्तान, Steve Smith को भी मिली उपकप्तानी

लेकिन आईपीएल के दौरान चोटिल हुई बाएं हाथ की तर्जनी उंगली की सर्जरी के बाद वो हाल के हफ्तों में अभ्यास पर लौट आए हैं। स्टोक्स 4 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया रवाना होने वाले इंग्लिश टेस्ट स्क्वाड का हिस्सा होंगे। Also Read - स्टीव स्मिथ, पैट कमिंस ऑस्ट्रेलिया के अगले टेस्ट कप्तान के लिए सबसे उपयुक्त उम्मीदवार: नाथन लियोन

स्टोक्स ने कहा, “मैंने अपने मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देने के लिए ब्रेक लिया था और मेरी उंगली भी ठीक हो गई है। मैं अपने साथियों को देखने और उनके साथ मैदान पर खेलने के लिए उत्सुक हूं। मैं ऑस्ट्रेलिया के लिए तैयार हूं।”

इंग्लैंड के पुरुष क्रिकेट टीम के मैनेजिंग डॉयरेक्टर एशले जाइल्स ने कहा, “उनकी उंगली के सफल ऑपरेशन के बाद पिछले कुछ हफ्तों में बेन, मेरे और हमारे मेडिकल स्टाफ और उनकी मैनेजमेंट टीम के बीच काफी बातचीत के बाद, बेन ने मुझे ये कहने के लिए बुलाया कि वो तैयार है। क्रिकेट में वापसी करने के लिए और एशेज सीरीज में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की संभावना के बारे में उत्साहित था।”

उन्होंने कहा, “बेन ने बार बार ये दिखाया है कि वो इंग्लैंड टीम के लिए कितना महत्वपूर्ण है और एशेज सीरीज के लिए उसका उपलब्ध होना हम सभी के लिए और खास तौर पर क्रिस [सिल्वरवुड], जो [रूट] और बाकी के लिए बहुत अच्छी खबर है। कुछ समय तक नहीं खेलने के बाद, हम अगले कुछ हफ्तों में सावधानी से आगे बढ़ेंगे ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि वो अपने खेल के सभी पहलुओं के लिए पूरी तरह से तैयार है।”

जाइल्स ने आगे कहा, “क्रिकेट के बहुत व्यस्त सीजन के शुरू होन से पहले, हम अपने सभी खिलाड़ियों के तनाव के प्रति सचेत रहना जारी रखते हैं, और हमारा पहला ध्यान अपने सभी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की भलाई पर है।”