लंदन: इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने रविवार को आईसीसी विश्वकप के फाइनल में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद कहा कि जिसने भी बेन स्टोक्स की जुझारू बल्लेबाजी को देखा है, उसे उनका अनुकरण करने की कोशिश करनी चाहिए. मैन ऑफ द मैच स्टोक्स ने फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत के लिए 242 रन का पीछा करते हुए 84 रन की नाबाद पारी खेल कर मैच को टाई करवाया और फिर सुपर ओवर में भी तीन गेंद में आठ रन बनाये.

मोर्गन ले कहा, ‘‘पूरे मैच के दौरान जिस तरह की भावनाएं थी, उसने काफी अनुभवी तरीके से उसका सामना किया. इंग्लैंड में जो भी विश्व कप देख रहा था , उम्मीद है वह अगला बेन स्टोक्स बनने की कोशिश करेगा. मोर्गन ने कहा, ‘‘ऐसी परिस्थितियों से बाहर आना शानदार है. वह (स्टोक्स) महामानव की तरह है. उसने टीम की बल्लेबाजी क्रम को संभाले रखा.’’

वर्ल्ड कप के नतीजे पर ‘विवाद’, कीवी मीडिया ने कहा- छली गई हमारी टीम, हम थे ट्रॉफी के सही हकदार

तीन साल पहले कोलकाता में आईसीसी टी20 विश्व कप के फाइनल में वेस्टइंडीज के कार्लोस बेथवेट ने स्टोक्स की गेंद पर लगातार छक्के लगाकर इंग्लैंड को जीत से महरूम कर दिया था जिसके बाद उनका करियर खत्म होने के कागार पर पहुंच गया था और मोर्गन भी इससे इत्तेफाक रखते है. उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने बेन (स्टोक्स) के बारे में कई बार ऐसा कहा है. मुझे लगता है कि कोलकाता में जो हुआ था उसके बाद कई खिलाड़ियों का करियर खत्म हो जाता.’’

विश्व कप में हार से दुखी हो गया न्यूजीलैंड का यह क्रिकेटर, बच्चों को दी ये नसीहत

स्टोक्स दो साल पहले ब्रिस्टल के पब में हाथापाई करने के बाद विवादो में आ गये थे लेकिन इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ियों का विवादों से पुराना नाता रहा है. इयान बाथम को गांजा सेवन करने का दोषी पाया गया था जबकि एंड्रयू फ्लिंटाफ शराब के नशे में नाव लेकर समुद्र में उतर गये थे. मोर्गन ने कहा, ‘‘ऐसी परिस्थितियों से बाहर आना शानदार है. वह (स्टोक्स) महामानव की तरह है. उसने टीम की बल्लेबाजी क्रम को संभाले रखा.’’