भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार इस समय चोट की वजह से टीम इंडिया से बाहर हैं. वेस्टइंडीज दौरे के बाद मांसपेशियों में खिंचाव के कारण बाहर हुए भुवनेश्वर ने इसी टीम के खिलाफ इस महीने टी-20 सीरीज में वापसी की थी लेकिन वह  फिर चोटिल हो गए.

2nd Youth ODI: बर्थडे ब्वॉय यशस्वी जायसवाल ने गेंद और बल्ले से किया धमाका, टीम इंडिया ने जीती सीरीज

भुवी का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि वह प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में कब तक वापसी करेंगे. यूपी के इस गेंदबाज को स्पोर्ट्स हर्निया है लेकिन अब तक यह तय नहीं हो सका है कि इसके लिए सर्जरी की जरूरत है या नहीं.

स्पोर्ट्स हर्निया के पहले पता नहीं चलने पर जताई हैरानी

यह अनुभवी तेज गेंदबाज कथित तौर पर अपने रिहैबिलिटेशन में खामी के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) को जिम्मेदार नहीं ठहराना चाहता. वह हालांकि हैरान है कि उनके हर्निया का पता पहले क्यों नहीं चला.

‘टी-20 वर्ल्ड कप में अभी 9 महीने का समय है’

भुवनेश्वर ने पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘विश्व टी20 में अब भी नौ महीने का समय है. मैं इस बारे में नहीं सोच रहा. सबसे पहले मुझे फिट होना है और मुझे नहीं पता कि मैं कब फिट हो पाऊंगा.’

Year Ender 2019: विकेट के पीछे सर्वाधिक शिकार कर महेंद्र सिंह धोनी बने दशक के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर

एनसीए की भूमिका पर 29 साल के इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘यह बीसीसीआई पर निर्भर करता है कि वे इसे कैसे लेते हैं. उन्हें एनसीए से बात करनी चाहिए.’ एनसीए ने निश्चित तौर पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया होगा लेकिन मुझे नहीं पता कि क्या गलत हुआ और वे इसका पता क्यों नहीं लगा पाए. फिर भी इस बारे में टिप्पणी करने के लिए मैं सही व्यक्ति नहीं हूं क्योंकि शायद मैं कुछ और कहूं और बीसीसीआई किसी और निष्कर्ष पर पहुंचे.’

‘खिलाड़ी की व्यक्तिगत इच्छा है कि वह एनसीए जाना चाहता है या नहीं’

भारत के लिए 21 टेस्ट, 114 वनडे और 43 टी20 खेल चुके मेरठ के भुवनेश्वर से पूछा गया कि क्या खिलाड़ी एनसीए में जाने से डरते हैं तो उन्होंने कहा, ‘यह किसी भी खिलाड़ी की व्यक्तिगत इच्छा है कि वह एनसीए जाना चाहता है या नहीं.’

अपने उबरने की प्रक्रिया पर भुवनेश्वर ने कहा कि उन्हें डॉक्टर से मुलाकात का इंतजार है जिसके बाद सर्जरी की जरूरत का स्पष्ट तौर पर पता चल पाएगा.

‘सर्जरी को लेकर अभी कुछ तय नहीं’

भुवनेश्वर ने कहा, ‘सर्जरी को लेकर अभी कुछ भी तय नहीं है लेकिन स्पोर्ट्स हर्निया के मामले में आम तौर पर सर्जरी ही की जाती है. लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से मिलना होगा. मुझे नहीं पता कि इसके बाद क्या होगा लेकिन हम जितना जल्दी संभव को इसका उपचार कराने का प्रयास कर रहे हैं.’

उन्होंने कहा, ‘जब तक मैं डॉक्टर से सलाह नहीं ले लेता तब तक नहीं बता सकता कि कब वापसी करूंगा क्योंकि यह उपचार पर निर्भर करेगा.’

‘मेरा काम प्रदर्शन करना है’

भुवनेश्वर से पूछा गया कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप टीम में जगह बनाने के लिए क्या उनके और एक अन्य चोटिल तेज गेंदबाज दीपक चाहर (स्ट्रेस फ्रेक्चर) के बीच सीधी टक्कर है तो उन्होंने कहा, ‘जब मैं फिट हो जाऊंगा तो यह प्रदर्शन पर निर्भर करेगा. इसलिए मैं इस बारे में नहीं सोच रहा कि कौन मौजूद है. चयन मेरे हाथ में नहीं है और ना ही यह मेरा काम है. मेरा काम प्रदर्शन करना है और मैं ऐसा करूंगा.’

भारतीय टीम ने हाल में विंडीज को अपने घर में वनडे और टी-20 सीरीज में मात दी थी. टीम इंडिया 5 जनवरी, 2020 से श्रीलंका के खिलाफ टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी.