नई दिल्ली. रणजी ट्रॉफी में बिहार का जलवा दिखने लगा है. एक टीम के तौर पर ये अभी ये शायद अपने पांव जमाने की कोशिश में हो लेकिन पर्सनल रिकॉर्ड के मामले में इस टीम के खिलाड़ियों का कोई जोर नहीं. ऐसे ही एक कीर्तिमान की स्क्रिप्ट बिहार के लेफ्ट आर्म स्पिनर आशुतोष अमन ने लिखी है. आशुतोष अमन ने अपने दमदार स्पिन से रणजी ट्रॉफी में बनाए 44 साल पुराने बिशन सिंह बेदी के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है.

रणजी ट्रॉफी में छाया बिहार का गेंदबाज

रणजी ट्रॉफी के एक सीजन में सबसे ज्यादा 65 विकेट लेने का रिकॉर्ड अब बिहार के बाएं हाथ के स्पिनर आशुतोष अमन के नाम हो गया है. आशुतोष ने 2018-19 सीजन के अब तक खेले 8 मैचों की 14 पारियों में 6.63 की शानदार औसत से 65 विकेट चटकाए हैं. इस दौरान वो 8 बार 5 विकेट और 4 बार 10 विकेट लेने का कमाल भी कर चुके हैं.

बिशन सिंह बेदी का रिकॉर्ड ढेर

इससे पहले ये रिकॉर्ड टीम इंडिया के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी के नाम था. बेदी ने रणजी ट्रॉफी के 1974-75 सीजन में 8.53 की औसत से 64 विकेट हासिल किए थे. इस दौरान 8 बार उन्होंने 5 विकेट चटकाए थे. तब से अब तक कोई भी गेंदबाज बेदी का रिकॉर्ड तोड़ना तो दूर उसके पास भी नहीं फटक सका था. लेकिन बिहार के आशुतोष अमन अब बेदी के रिकॉर्ड को ढेर करते हुए रणजी के एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं.

सिलसिला जारी है…

मौजूदा सीजन में आशुतोष दूसरे बेस्ट बॉलर की संख्या से काफी आगे हैं. यही नहीं उनके विकेटों का सिलसिला अभी थमा नहीं है. मतलब ये कि विकेटों की संख्या में अभी और रिकॉर्ड इजाफा होगा.