किसी को लगता है कि गांगुली बाउंसर के सामने लाचार हो जाते थे तो कोई कहता है कि गांगुली ऑफ साइड के बादशाह थे। कोई कहता है कि वो भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान थे तो किसी का मत है कि वो खेल में पूरा जी-जान लगा देते थे। इन सब बातों में लोगों के अलग-अलग मत हो सकते हैं लेकिन अगर सिक्सर का बादशाह कहा जाए तो सौरव गांगुली का नाम एक स्वर में निकलता है। अगर आपके मन में किंग ऑफ सिक्सर के नाम पर जरा भी संदेह है तो इस लेख के अंत में लगे वीडियो को जरूर देखिएगा। आज दादा यानि सौरव गांगुली का जन्मदिन है।Also Read - 'प्रिंस ऑफ कोलकाता' को जन्मदिन पर मिल रही बधाई, पढ़ें-सहवाग से लेकर लक्ष्मण ने क्या कहा

Also Read - बर्थडे स्पेशल: सौरव गांगुली के वो रिकॉर्ड्स जिन्होंने वर्ल्ड क्रिकेट में तहलका मचाया

यह भी पढ़ेंः Birthday Special: 44 साल के हुए सौरव गांगुली, सदा बरकरार रहे आपकी दादागिरी बस यही है दुआ Also Read - दादा के बर्थडे पर सहवाग ने अनोखे अंदाज में किया विश, 4 तस्वीरों में बयां हुई कहानी

सौरव गांगुली ने 311 एकदिवसीय मैचों की 300 पारियों में 190 छक्के लगाए हैं। याद आती है उनकी जिम्बाब्वे के खिलाफ खेली गई वह पारी जिसमें सौरव गांगुली ने एक ओवर की तीन गेंदों को स्टेडियम के बाहर पहुँचा दिया था। उस मैच की कमेंट्री कर रहे टॉनी ग्रेग चिल्ला पड़े थे…”HE LOVES THAT ROOF, HE LOVES THAT ROOF”.

सौरव गांगुली ने अपने क्रिकेट कैरियर में 10 हजार से ज्यादा रन, 100 विकेट और 100 कैच लपके हैं। ऐसा कारनामा दुनिया में सिर्फ 5 लोग ही कर सकें हैं। सौरव गांगुली बतौर कप्तान काफी सफल रहे थे। माना जाता है कि उनका अग्रेशन टीम में जोश भरने में काफी मददगार साबित होता था। सचिन तेंदुलकर के साथ उनकी जोड़ी ने तो कमाल ही कर दिया था और इतिहास की सबसे सफल ओपनिंग जोड़ियों में से एक है। इस जोड़ी के नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हैं। वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 9000 रन पूरे करने का रिकॉर्ड सौरव गांगुली के नाम दर्ज है। उन्होंने सिर्फ 228 पारियों में 9 हजार रन बना लिए थे जबकि सचिन तेंदुलकर को 9 हजार रन बनाने के लिए 235 पारियाँ खेलनी पड़ी थी।

देखिए सौरव गांगुली के सिक्सर का यह कम्पाइल वीडियो जो साबित करता है कि सौरव गांगुली ही हैं किंग ऑफ सिक्सर…