नई दिल्ली. BJP के ‘सम्पर्क फोर समर्थन’ कम्पेन के तहत पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने राजधानी दिल्ली में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान अमित शाह ने धोनी को मोदी सरकार के पिछले 4 साल के कामों के बारे में बताया. अमित शाह ने धोनी को सरकार की उन नीतियों और प्रयासों के बारे में बताया जो देशहित के लिए शुरू किए गए हैं. भारत को वनडे क्रिकेट का दूसरा विश्व कप जिताने वाले धोनी से अपने मुलाकात की जानकारी BJP अध्यक्ष ने ट्वीट कर दी. Also Read - West Bengal: PM मोदी के पहुंचने से पहले बवाल, हावड़ा में BJP कार्यर्ताओं पर हमला, TMC वर्कर्स पर आरोप

सम्पर्क फोर समर्थन कम्पेन, 2019 लोक सभा चुनावों के मद्देनजर BJP का एजेंडा है, जिसके तहत उनकी कोशिश हर फील्ड के जाने-माने चेहरों को को खुद के कामों के बारे में बताना और उस पर चर्चा करना है. शाह की धोनी से मुलाकात उनके इसी एजेंडे का हिस्सा है. धोनी से मुलाकात के दौरान अमित शाह के साथ वित्त मंत्री पीयूष गोयल और पार्टी के दूसरे बड़े नेता भी मौजूद थे.

pjimage

साफ है अब जब लोक सभा चुनावों में सिर्फ 10 महीने का वक्त बाकी है तो BJP कोई दांव चूकना नहीं चाहती. यही वजह है कि उसने पार्टी के 4000 हजार कार्यकर्ताओं को एक लाख ऐसे लोगों से मिलने को कहा है, जो अपने-अपने क्षेत्रों में अलग मुकाम हासिल कर चुके हैं और जो पब्लिक फीगर हैं, ताकि वो उनसे मिलकर पिछले 4 सालों में किए सरकार के कामों और प्रयासों की जानकारी दे सकें.

बता दें कि, धोनी से मिलने से पहले शाह खुद ख्याति प्राप्त 25 और लोगों से मिलकर उन्हें सरकार की नीतियों और प्रयासों से दो-चार करा चुके हैं. BJP के इस बड़े मूवमेंट के तहत अमित शाह ने 29 मई को पूर्व आर्मी चीफ दलबीर सिंह सुहाग और लोक सभा के पूर्व सेक्रेटरी जनरल सुभाष कश्यप से मुलाकात की थी. इसके बाद वो रतन टाटा और माधुरी दीक्षित जैसी दूसरी शख्सियतों से भी मुलाकात कर चुके हैं.