मास्को: विश्व कप के दौरान फुटबाल खिलाड़ियों से गर्भवती होने वाली रूसी महिलाओं को मुफ्त बर्गर देने के अपने ऑनलाइन विज्ञापन पर बर्गर किंग ने माफी मांगी है . फेसबुक के स्थानीय प्रतिद्वंद्वी वीके पर इस फास्टफूड श्रृंखला के अकाउंट पर विज्ञापन में कहा गया था कि रूस को कुछ अच्छे ‘ फुटबाल जीन्स ’ का फायदा मिल सकता है. बर्गर किंग ने कहा कि सामाजिक सरोकार मुहिम के तहत बर्गर किंग उन महिलाओं को इनाम दे रहा है जो फुटबाल सितारों से गर्भवती होंगी. इसमें कहा गया कि हर महिला को 45000 डॉलर और जिंदगी भर व्हूपर बर्गर मुफ्त मिलेंगे . अच्छे फुटबाल जीन्स लेने पर ये महिलायें भविष्य में रूस को अच्छे फुटबालर दे सकेंगी. बर्गर किंग ने सोशल और अंतराष्ट्रीय मीडिया में हंगामा होने पर विज्ञापन वापस ले लिया है.

अमेरिका की इसलिए हो रही है आलोचना
वहीं फुटबाल विश्व कप का लुत्फ उठाने के लिए रूस गए दक्षिण अमेरिका के कुछ फुटबाल प्रशंसकों ने दूसरे देशों की महिलाओं से अपनी स्थानीय भाषा में अमर्यादित शब्दों को बुलवाकर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया जिसकी खूब आलोचना हो रही है. एक वीडियो में ब्राजील के कुछ प्रसंशक एक विदेशी महिला को घेर कर पुर्तगाली भाषा में अमर्यादित शब्द बुलवा रहे है. यह महिला इस भाषा को नहीं समझती है. एक अन्य वीडियो में कोलंबिया के प्रशंसक महिला से स्पेनिश

रूस में बीयर का खुमार हुआ कम
पूरी दुनिया से फुटबाल प्रशंसक विश्व कप देखने के लिये रूस पहुंच रहे हैं और जैसे जैसे इस महाकुंभ का खुमार चरम की ओर बढ़ रहा है , वैसे ही ‘ बार, बीयर गार्डन्स और क्राफ्ट बीयर पब्स ’ में लोगों को हुजुम बढ़ता जा रहा है. लेकिन बिक्री में बढ़ोतरी का रूस के बीयर उद्योग पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा जहां पिछले कई वर्षों में इसकी खपत कम होती जा रही है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार सालाना अल्कोहल खपत के मामले में रूस 14 वें नंबर पर है. जापान की बीयर बनाने वाली कंपनी किरिन द्वारा 2016 में कराये गये सर्वे के अनुसार वोदका ‘ सोशल लाइफ ’ में ज्यादा बड़ी भूमिका निभा रहा है जिसमें बीयर खपत के मामले में रूस 32 वें स्थान पर है.

कम बीयर पी रहे हैं रूसी
बिक्री एवं विज्ञापन पर लगी रोक के कदम से रूसी लोग 2000 के शुरू की तुलना में अब कम बीयर पी रहे हैं. बीयर पर कर भी काफी ज्यादा लगता है. वहीं 2011 के बाद बीयर को ‘ साफ्ट ड्रिंक ’ के बजाय ‘ अल्कोहल ड्रिंक ’ करार कर दिया गया. इसके बाद से रात में इसकी बिक्री पर प्रतिबंध लग गया.विश्व कप से भले ही बीयर की बिक्री में बढ़ोतरी हो , लेकिन रूस की नंबर एक ब्रांड बाल्टिका के सीनियर डेवलपमेंट निदेशक का कहना है , ‘ बढ़ती हुई मांग से केवल इस समय के दौरान ही असर पड़ेगा लेकिन सालाना ट्रेंड में कोई बदलाव नहीं होगा.