भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahender Singh Dhoni) के इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास के बाद क्रिकेट फैंस के बीच यह बड़ा मुद्दा बन गया है कि यह दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज अब इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में खेलेगा या नहीं. Also Read - IPL 2020, CSK vs MI: मैच का रुख पलट सकते हैं मुंबई-चेन्नई के ये पांच खिलाड़ी

धोनी को चाहने वालों में शामिल 66 साल के सी कृष्णमूर्ति उन असंख्य प्रशंसकों को शामिल हैं जो उम्मीद कर रहे हैं कि यह पूर्व भारतीय कप्तान जब तक संभव हो आईपीएल में खेलता रहे. धोनी को चेन्नई के लोगों से जो प्यार और सम्मान मिला उसकी कल्पना नहीं की जा सकती और उम्रदराज प्रशंसक कृष्णमूर्ति का सवाल देश के इस हिस्से में उनकी लोकप्रियता का सूचक है. Also Read - IPL 2020: धोनी के उन्हें डेथ ओवरों में गेंदबाजी ना देने का कारण सुनकर हैरान रहे गए थे चाहर

‘काश! धोनी कुछ और साल तक खेलते’ Also Read - IPL 2020: यूएई की पिचों पर वैरिएशन दिखाने के लिए तैयार हैं अमित मिश्रा

विश्वविद्यालय के सेवानिवृत्त प्रोफेसर कृष्णमूर्ति ने पीटीआई से कहा, ‘मैंने सिर्फ धोनी के कारण ही क्रिकेट को देखना जारी रखा और काश वह कुछ और साल खेलता. सीएसके उसके कारण ही सीएसके है.’

कृष्णमूर्ति ने कहा कि वह टेलीविजन पर सीएसके का कोई आईपीएल मैच नहीं छोड़ते. वह धोनी के उन कट्टर समर्थकों में शामिल हैं जो सोचते हैं कि रांची में जन्में इस क्रिकेटर ने दिखाया कि छोटे शहरों के खिलाड़ी भी बड़ा नाम कमा सकते हैं.

आईटी कंपनी में काम करने वाले और सीएसके के प्रशंसक राजा राजन ने कहा कि ऐसा बहुत कम होता है कि राज्य के बाहर का कोई व्यक्ति आकर स्थानीय हीरो बन जाए. उन्होंने कहा कि धोनी के मामले में ऐसा ही हुआ है और इसका एक कारण आईपीएल है.

उन्होंने कहा, ‘जब आईपीएल हुआ और अन्य शहरों के पास अपने घरेलू सितारे थे जब चेन्नई को धोनी मिला और प्रशंसकों ने उसे पसंद किया, मैंने भी. मैदान पर अपने प्रदर्शन और अपने स्वभाव और सीएसके को सफल बनाकर वह प्रशंसकों से जुड़ गया और यह प्यार और मजबूत हो गया.’

धोनी के कट्टर प्रशंसक और सीएसके के मैचों के दौरान अपने शरीर पर पेंटिंग करने के लिए पहचाने जाने वाले हरि सरवनन ने कहा कि ‘थाला’ को अब नीली जर्सी (राष्ट्रीय टीम की जर्सी) में नहीं देखा जाएगा लेकिन उन्हें पीली जर्सी (सीएसके की जर्सी) में एमए चिदंबरम स्टेडियम में उतरते हुए देखना शानदार होगा.

सरवनन ने कहा, ‘यह निराशाजनक है कि वह अब नीली जर्सी नहीं पहनेगा लेकिन हम अपने गढ़ (एमए चिदंबरम) में उसके सीएसके की पोशाक में देखेंगे.’ एक अन्य प्रशंसक महेश कुमार ने उम्मीद जताई कि चेन्नई में टेस्ट पदार्पण करने वाले धोनी इस शहर को अपना घर बनाएंगे और घरेलू क्रिकेट में तमिलनाडु की ओर से खेलेंगे.

महेश ने कहा, ‘मैं टेस्ट क्रिकेट से प्यार करता हूं और यहां धोनी को टेस्ट पदार्पण करते हुए देखा था. उम्मीद करता हूं कि वह चेन्नई में रहने लगेंगे और तमिलनाडु की रणजी टीम की मदद करेंगे या कोच बन जाएंगे.’