मुंबई: फाफ डुप्लेसी की नाबाद 67 रनों की पारी के दम पर चेन्नई ने आईपीएल 11 के पहले क्वालिफायर मुकाबले में हैदराबाद को दो विकेट से हराकर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली. मुख्य बल्लेबाजों के आउट होने के बाद 19वें ओवर में शार्दुल ठाकुर ने पांच गेंद में 15 रन बनाकर मुकाबला अपनी टीम के पक्ष में कर दिया. चेन्नई ने हैदराबाद के दिए 140 रनों के लक्ष्य को पांच गेंद बाकी रहते ही हासिल कर लिया. हैदराबाद अब दूसरे क्वालिफायर मुकाबले में कोलकाता और राजस्थान के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता टीम से भिड़ेगी. Also Read - WATCH: कड़कती बिजली के बीच धोनी ने निकाली बाइक, बेटी जीवा को कराई सैर

पावरप्ले में खराब शुरुआत
चेन्नई की शुरुआत बेहद खराब हुई. पहले ही ओवर में शेन वाटसन आउट हुए जब टीम का खाता भी नहीं खुला था. सुरेश रैना ने आते ही कुछ अच्छे हाथ दिखाए, लेकिन 13 गेंद पर 22 रन बनाने के बाद सिद्धार्थ कौल की गेंद पर बोल्ड हो गए. अगली ही गेंद पर कौल ने अंबाति रायुडू को बोल्ड कर चेन्नई को मुकाबले में पीछे कर दिया. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने अंदाज में टिक कर बल्लेबाजी की कोशिश की. उन्होंने 18 गेंद पर नौ रन बनाए थे जब राशिद खान की गुगली को समझ नहीं पाए और क्लीन बोल्ड होकर पवेलियन लौट गए. Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...

शार्दुल ने किया बल्ले से कमाल
चेन्नई का स्कोर आठवें ओवर में 39 रन ही हुआ था और चार विकेट गिर चुके थे. दूसरे छोर पर डुप्लेसी बड़े शॉट्स नहीं लगा पा रहे थे, लेकिन वे टिके रहे. 12वें ओवर में ड्वेन ब्रावो के आउट होने के बाद डुप्लेसी ने बड़े शॉट्स लगाना शुरू किया. आठवें विकेट के लिए हरभजन के साथ उनकी 21 रन की साझेदारी ने चेन्नई की उम्मीदें फिर से जगा दीं. उनके आउट होने के बाद शार्दुल ने कौल के ओवर में ताबड़तोड़ चौके और छक्का लगाकर मुकाबले का रुख मोड़ दिया. अंतिम ओवर में जीत के लिए 6 रन की जरूरत थी और डुप्लेसी ने पहली ही गेंद पर छक्का जड़कर चेन्नई को फाइनल का टिकट दिला दिया.
हैदराबाद के लिए राशिद खान, संदीप शर्मा और सिद्धार्थ कौल ने दो-दो विकेट लिए. एक विकेट भुवनेश्वर कुमार को मिला. Also Read - फैंस ही नहीं साथी खिलाड़ियों को भी आ रही है धोनी की याद; रैना ने पोस्ट की फोटो तो चहल ने साक्षी से मदद मांगी

हैदराबाद ने बनाए सात विकेट खोकर 139 रन
इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने 20 ओवर में विकेट 7 खोकर 139 रन बनाए. इस दौरान टीम के लिए शिखर धवन और श्रीवत्स गोस्वामी ओपनिंग करने आए. लेकिन ये दोनों टीमों को अच्छी शुरुआत नहीं दे पाए. धवन पहली ही गेंद पर आउट होकर पवेलियन लौटे. वहीं श्रीवत्स भी महज 12 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद केन विलियमसन ने लगातार तीन चौके जड़कर शमा बांधा. हालांकि वो भी 15 गेंदों में 24 रन बनाकर शार्दुल ठाकुर की गेंद पर आउट हुए. मनीष पांडे महज 8 रन और शाकिब अल हसन 12 रन बनाकर आउट हुए. यूसुफ पठान भी थोड़ी देर संघर्ष करते रहे, फिर 24 रन बनाकर आउट हुए. पारी के अंत में कार्लोस ब्रैथवेट ने 4 छक्के जड़कर स्कोरकार्ड को आगे बढ़ाया. ब्रैथवेट ने 29 गेंदों का सामना करते हुए 43 रन बनाए. भुवनेश्वर कुमार 7 रन बनाकर रनआउट हुए.

चेन्नई की ओर से शानदार गेंदबाजी करते हुए ड्वेन ब्रावो ने 25 रन देकर 2 विकेट झटके. वहीं दीपक चाहर ने भी 4 ओवर में 31 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया. रविन्द्र जडेजा ने 4 ओवर में महज 13 रन दिए और एक विकेट हासिल किया. लुंगी एन्गिडी ने भी शानदार गेंदबाजी की. उन्होंने 4 ओवर में 20 रन देकर एक विकेट हासिल किया. शार्दुल ठाकुर ने 4 ओवर में 50 रन देकर 1 विकेट हासिल किया.