00744 Also Read - खिलाड़ी पूछ रहे IPL 2020 आयोजन को लेकर सवाल, फ्रेंचाइजी ने जवाब देने के लिए निकाला ये तरीका

Also Read - COVID-19: सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ IPL 2020 के आयोजन को तैयार फ्रेंचाइजी

आईपीएल 8 में अब मुकाबला दो चैंपियन टीमों के बीच में है। ये दोनों टीमें दो बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी हैं। कोलकाता और चेन्नई की टीमें इस सीज़न में पहली बार एक-दूसरे के आमना-सामने होंगी। चेन्नई दो मैच लगातार जीत चुकी है और जीत की हैट्रिक लगाकर अंक तालिका में दोबारा से टॉप पोजिशन हासिल करने के इरादे से मैदान पर उतरेगी। Also Read - मौजूदा खिलाड़ियों में रोहित शर्मा के पास सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटिंग दिमाग : वसीम जाफर

अंक तालिका में दूसरे स्थान पर काबिज चेन्नई का इरादा जहां इस मुकाबले में जीत हासिल कर अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंचने का होगा, वहीं कोलकाता की निगाहें दोबारा जीत की पटरी पर लौटने पर होंगी। यह भी पढ़े-आईपीएल-8 : सनराइजर्स ने दर्ज की तीसरी जीत

चेन्नई के लिए सब कुछ अच्छा नज़र आ रहा है।ओपनर ड्वेन स्मिथ और ब्रैंडन मैक्कलम टॉप-5 बल्लेबाज़ों की लिस्ट में शामिल हैं, जबकि गेंदबाज़ों में आशीष नेहरा भी टॉप-5 गेंदबाज़ों की लिस्ट में बरकरार हैं। पिछले मैच में धोनी के बल्ले से भी रन निकले है और बैटिंग ऑर्डर में ऊपर आकर उन्होंने अपने इरादे साफ कर दिए हैं।

हालांकि आईपीएल में हुए मुकाबलों को देखें तो पलड़ा निश्चित रूप से धोनी के धुरंधरों का भारी है। चेन्नई ने कुल 14 आपसी मुकाबलों में से दस में कोलकाता को मात दी है।

चेन्नई ने अपने पिछले मुकाबले में पिछले साल की उपविजेता किंग्स इलेवन पंजाब को 97 रन की जोरदार शिकस्त दी थी। टीम इस समय तीनों विभागों में जबरदस्त प्रदर्शन कर रही है। यह भी पढ़े-आईपीएल-8 : रॉयल चैलेंजर्स ने डेयरडेविल्स को 10 विकेट हराया

दूसरी तरफ कोलकाता की टीम है, जो मौसम की मार झेल रही है। हैदराबाद के खिलाफ़ D/L Method से वो हारे, जबकि राजस्थान के खिलाफ़ बारिश की वजह से 1 अंक से उन्हें संतोष करना पड़ा।

कोलकाता के लिए दिक्कत यह है कि कप्तान गंभीर को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ निरंतर अच्छा खेल नहीं दिखा पा रहा। रॉबिन उथप्पा ने अभी तक 104, मनीष पांडे ने 108 और यूसुफ़ पठान अभी तक 91 रन इस सीज़न में बनाए हैं। एक भी अर्धशतक इन खिलाड़ियों के बल्ले से इस सीज़न नहीं निकला है।

वहीं चेन्नई की तरफ से तेज गेंदबाजी का जिम्मा आशीष नेहरा ने बखूबी संभाल रखा है। ईश्वर पांडेय, मोहित शर्मा और ब्रावो उनका अच्छा साथ दे रहे हैं। वहीं स्पिनर आर अश्विन का तोड़ इस सत्र में तलाश नहीं जा सका है। यह भी पढ़े-आईपीएल-8 : चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन को 97 रनों से हराया

गेंदबाज़ी में मोर्नी मोर्केल और उमेश यादव ने अच्छा प्रदर्शन किया है। हालांकि स्पिनर सुनील नरेन के एक्शन को लेकर एक बार फिर विवाद खड़ा हो गया है। उनका चेन्नई के खिलाफ मैच में खेलना तय नहीं है। मैच चेन्नई सपरकिंग्स के होमग्राउंड पर है इसलिए भी कोलकाता के लिए चुनौती काफी बड़ी रहने वाली है।

सुनील नारायन के एक्शन पर एक बार फिर सवाल उठने के बाद यह विभाग भी कुछ हद तक कमजोर हुआ है। हालांकि मोर्ने मोर्केल और उमेश यादव ने अच्छा प्रदर्शन किया है और इस बार भी जिम्मेदारी उन्हीं के कंधों पर होगी।