नई दिल्ली: इंडियन टी-20 लीग में मंगलवार को चेन्नई और कोलकाता के बीच मैच खेला जायेगा. इस सीजन का पहला मैच जीतने के बाद महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम चेन्नई आत्मविश्वास से भरी है और अपने होम ग्राउंड में निश्चित रूप से पूरी तैयारी के साथ उतरेगी. यह मुकाबला चेन्नई के एम.ए. चिदम्बरम स्टेडियम में खेला जायेगा. वहीं कोलकाता ने भी अपने पहले मैच में बैंग्लोर को हराया था. लिहाजा दोनों टीमों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिलेगा. Also Read - IPL 2021: MS Dhoni को शून्य पर आउट कर बोले आवेश खान- पूर्व कप्तान का विकेट लेना सपना सच होने जैसा

Also Read - IPL 2021: शेफ बने Raina-Rayudu, मिलकर पकाई लजीज बिरयानी, देखें VIDEO

अगर अब तक रिकॉर्ड्स पर नजर डालें तो चेन्नई का पलड़ा भारी नजर आता है. इन दोनों टीमों के बीच हेड टू हेड 16 मुकाबले खेले गए हैं, जिनमें से 10 मैचों में चेन्नई ने जीत हासिल की है. वहीं 6 मुकाबले कोलकाता के पक्ष में रहे हैं. इन दोनों टीमों ने चेन्नई के होम ग्राउंड में 7 मुकाबले खेले हैं. इस दौरान 5 मैचों में चेन्नई ने जीत हासिल की और 2 मैच कोलकाता ने जीते हैं. Also Read - IPL 2021: MS धोनी और CSK के साथ वापसी करना शानदार लगता है: Suresh Raina

चेन्नई की मुश्किलें बढ़ीं, जाधव के बाद अब यह दिग्गज खिलाड़ी हुआ बाहर

मुंबई के खिलाफ खेले गए पहले मुकाबले में चेन्नई ने रोमांचक जीत हासिल की थी. लेकिन इस मैच में टीम के दिग्गज खिलाड़ी केदार जाधव चोटिल हो गए थे. इस वजह से अब वो टीम के लिए इस सीजन में नहीं खेल पायेंगे. इसलिए चेन्नई की मुश्किलें थोड़ा बढ़ गई हैं. वहीं फाफ डु प्लेसिस भी शुरुआत कुछ मैचों में नहीं खेल पायेंगे. इसलिए जाधव की जगह अम्बाती रायडु के स्थान में परिवर्तन किया जा सकता है और एन जगदीसन को टीम में शामिल किया जा सकता है.

इससे इतर देखें तो सुरेश रैना का प्रदर्शन कोलकाता के खिलाफ दमदार रहा है. रैना अब तक कोलकाता के खिलाफ कुल 838 रन बनाए हैं. उन्होंने चैम्पियन्स लीग 2014 में इसी टीम के खिलाफ शतक भी जड़ा था. इसलिए इस मैच में भी रैना से टीम को काफी उम्मीदें होंगी.

16 और 9 के संयोग से बना राजस्थान का ‘राज योग’, फिर बनेगा IPL चैम्पियन!

कोलकाता पर नजर डालें तो यह टीम पूरी तरह से संतुलित है. बैंग्लोर के खिलाफ टीम के दिग्गज ऑलराउंडर सुनील नरेन की आतिशी पारी कोलकाता के फैन्स के दिल में बस गई है. अब सबकी नजरें एक बार फिर से नरेन पर होंगी. इनके अलावा कप्तान दिनेश कार्तिक ने भी दमदार प्रदर्शन किया था. लिहाजा धोनी के खिलाफ वो नई रणनीति के साथ मैदान में उतरेंगे.

संभावित प्लेइंग इलेवन :

चेन्नई – शेन वॉटसन, मुरली विजय/एन. जगदीसन, सुरेश रैना, अम्बाती रायडु, एम.एस. धोनी (विकेटकीपर/ कप्तान), ड्वेन ब्रावो, रविन्द्र जडेजा, हरभजन सिंह, मार्क वुड, दीपक चाहर, इमरान ताहिर.

कोलकाता – सुनील नरेन, क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, नितीश राणा, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर/ कप्तान), आंद्रे रसेल, रिंकू सिंह, पीयूष चावला, मिचेल जॉह्नसन, कुलदीप यादव, विनय कुमार.