नई दिल्ली. टीम इंडिया में भरोसे का नया चेहरा… भारतीय क्रिकेट की नई दीवार… या यूं कहें कि एक ऐसा मंझा बल्लेबाज जिसके बिना टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया का गुजारा नामुमकिन है वो नाम चेतेश्वर पुजारा का है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में पुजारा ने एक और बेहतरीन शतक की स्क्रिप्ट लिखी है. पुजारा ने ये कमाल सिडनी टेस्ट की पहली पारी में कर दिखाया है, जो कि उनके बल्ले से इस सीरीज में निकला तीसरा शतक है और सीरीज जीत की गारंटी भी. यानी, संक्षेप में पुजारा के शतक का सच बयां करें तो ऑस्ट्रेलिया के हार की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है. हम ऐसा क्यों कह रहे हैं अब जरा वो समझिए. Also Read - India vs Australia: हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए चुने भारतीय सलामी बल्लेबाज

Also Read - India vs Australia: इन भारतीय बल्लेबाजों ने खूब मचाई धूम, जानें- विराट हैं कहां

सिडनी में विराट ने ‘गुलाबी’ बल्ले से किया सचिन, लारा, पॉन्टिंग का इंटरनेशनल रिकॉर्ड ब्रेक Also Read - ऑस्‍ट्रेलिया में चेतेश्‍वर पुजारा ने शुरू की प्रैक्टिस, क्‍या दोहरा पाएंगे 2018 वाला प्रदर्शन ?

एडिलेड, मेलबर्न के बाद अब सिडनी जीतो

सिडनी से पहले पुजारा ने एडिलेड में खेले पहले टेस्ट की पहली पारी और मेलबर्न में खेले तीसरे टेस्ट की पहली पारी में भी शतक जमाया था. उन दो शतकों का नतीजा भारत की जीत के तौर पर सामने आया, जिससे भारत को टेस्ट सीरीज में 2-1 की लीड मिली. और, अब सिडनी टेस्ट की पहली पारी में भी पुजारा के बल्ले से शतक निकला है, जो सीरीज में 2-1 की बढ़त को सिडनी में सीरीज जीत में तब्दील होने की आहट बयां कर रहा है.

मयंक अग्रवाल का ‘धमाका’, ऑस्ट्रेलिया में अकेले पड़ गए सारे ओपनर्स पर भारी

सिडनी का शतक सीरीज में सबसे तेज

पुजारा ने एडिलेड में 231 गेंदों पर शतक जड़ा था. मेलबर्न में उन्होंने अपने करियर का सबसे धीमा शतक जड़ते हुए 280 गेंदों का सामना किया. जबकि सिडनी के शतक के लिए उन्होंने सिर्फ 199 गेंदे खेली. यानी, तीनों शतकों में सिडनी का शतक इस सीरीज में पुजारा के बल्ले से निकला सबसे तेज शतक है.

18 शतक बनाने वाले चौथे सबसे तेज भारतीय

सिडनी का शतक पुजारा के बल्ले से निकला उनके टेस्ट करियर का 18वां शतक है. वो सबसे तेज 18 टेस्ट शतकों का सफर पूरा करने वाले भारत के चौथे बल्लेबाज हैं. पुजारा ने 18 शतक का सफर 114 पारियों में पूरा किया. जबकि इस मुकाम तक पहुंचने के लिए गावस्कर ने 82 पारी, सचिन ने 99 पारी और विराट ने 103 पारी खेली.

पुजारा ने की गावस्कर की बराबरी

सिडनी के शतक के साथ पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज में 3 शतक जड़ दिए हैं. इस मामले में उन्होंने गावस्कर के 1977-78 में बनाए भारतीय रिकॉर्ड की बराबरी की है तो वहीं अब बस विराट के 4 शतकों के रिकॉर्ड से पीछे हैं. विराट ने 2014-15 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 शतक जड़े थे.