नई दिल्ली : इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय टीम ने एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच खेला, जो कि ड्रॉ रहा. लेकिन इस मुकाबले में टीम इंडिया के कुछ दिग्गज खिलाड़ियों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा. इनमें चेतेश्वर पुजारा और शिखर धवन अहम हैं. पुजारा टीम इंडिया के लिए सिर्फ टेस्ट मैच खेलते हैं. उन्होंने अभ्यास मैच की 2 पारियों में महज 24 रन बनाए. जब कि शिखर धवन बिना खाता खोले ही आउट हो गए. Also Read - 'चेज मास्टर' विराट कोहली का मुरीद हुआ ये ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज, बताई वजह

Also Read - लार के इस्तेमाल पर संभावित बैन पर बोले इशांत- नए तरीकों के हिसाब से खुद को ढालना होगा

पुजारा टेस्ट मैचों के भरोसेमंद खिलाड़ी हैं. इसके अलावा इंग्लैंड में खेलने का अच्छा खासा अनुभवी है. वो इंटरनेशनल मैचों के अलावा काउंटी लीग में खेले हैं. लेकिन इसके बावजूद अभ्यास मैच में अच्छा न खेल पाना भारत टीम के लिए चिंताजनक है. पुजारा ने पहली पारी में सिर्फ 1 रन बनाया और दूसरी पारी में 23 रन बनाकर आउट हो गए. उनका इस तरह आउट होना भारतीय टीम के लिए थोड़ा चिंताजनक जरूर है. लेकिन अगर काउंटी क्रिकेट के रिकॉर्ड को देखें तो वो अच्छा रहा है. Also Read - सचिन तेंदुलकर ने 19 साल की उम्र में खेला था काउंटी क्रिकेट, डेब्यू मैच में किया था धमाका

धोनी के संन्यास के बाद खराब रहा भारत टेस्ट विकेटकीपर्स का प्रदर्शन, ये रिकॉर्ड्स हैं गवाह

भारतीय टीम के खिलाड़ी पुजारा ने यॉर्कशायर के लिए खेलते हुए 52.8 का औसत बरकरार रखा है. इसके अलावा उन्होंने यॉर्कशायर के लिए नाबाद 133 रन की शानदार पारी भी खेली थी. वहीं अगर उनके टेस्ट मैचों के रिकॉर्ड को देखें तो वह भी प्रभावी रहा है. पुजारा ने भारत के लिए खेलते हुए 50.34 के औसत से 4531 रन बनाए. इस दौरान 14 शतक और 3 दोहरे शतक भी जड़े. इसके अलावा उन्होंने 17 अर्धशतक भी जड़े हैं. अहम बात यह भी है कि इंटरनेशनल टेस्ट मैचों में पुजारा का स्ट्राइक रेट 47.56 रहा है.