भारतीय टेस्ट टीम की ‘नई दीवार’ चेतेश्वर पुजारा इस समय न्यूजीलैंड दौरे पर हैं जहां टीम इंडिया को शुक्रवार से मेजबान टीम के खिलाफ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने हैं. टेस्ट सीरीज के बाद भारतीय टीम स्वदेश लौट आएगी जहां उसे मार्च में दक्षिण अफ्रीका की लिमिटेड ओवर्स की सीरीज की मेजबानी करनी है. इसके बाद टीम इंडिया के खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपनी-अपनी फ्रेंचाइजी की ओर से खेलेंगे. पुजारा को आईपीएल में इस बार भी कोई खरीददार नहीं मिला. ऐसे में जब अधिकतर खिलाड़ी आईपीएल में खेलेंगे उस समय पुजारा इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेलेंगे.Also Read - "इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट मैच में बुमराह की जगह पुजारा को होना चाहिए था टीम इंडिया का कप्तान"

वर्ल्ड के सबसे बड़े मोटेरा स्टेडियम के बारे में BCCI अध्यक्ष गांगुली का आया बयान, इस दिन का कर रहे हैं बेसब्री से इंतजार Also Read - IND vs ENG- एजबेस्टन टेस्ट में इतिहास रचने के लिए इन खिलाड़ियों को करना होगा कमाल

भारत के टेस्ट विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा ने बुधवार को इंग्लिश काउंटी चैंपियनशिप के पहले छह मैचों के लिए ग्लूस्टरशॉयर के साथ अनुबंध किया. भारतीय टेस्ट टीम के प्रमुख खिलाड़ी पुजारा ने अपनी ठोस तकनीक के कारण बल्लेबाजी को मजबूती प्रदान कर रहे हैं. ग्लूस्टरशॉयर के साथ उनका अनुबंध 12 अप्रैल से 22 मई तक के लिए है. Also Read - अगर Rohit Sharma बाहर, तो Shubman Gill के साथ इसे मिलेगा ओपनिंग का मौका!

क्लब की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में पुजारा ने कहा, ‘मैं इस सत्र में ग्लूस्टरशॉयर का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलने से वास्तव में उत्साहित हूं. क्लब का शानदार क्रिकेट इतिहास है और उसकी सफलता में योगदान देने का महत्वपूर्ण मौका है.’

न्यूजीलैंड में 23 टेस्ट मैच खेल चुकी है टीम इंडिया, जानिए क्या कहते हैं आंकड़े

क्लब ने पुजारा की लंबी अवधि तक बल्लेबाजी करने की क्षमता पर विचार किया. ग्लूस्टरशॉयर को उनके अनुभव का फायदा मिलेगा. यह काउंटी टीम एक दशक में पहली बार काउंटी चैंपियनशिप के डिवीजन एक में खेल रही है.