भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज फारुख इंजीनियर द्वारा बुधवार को चयन समिति और भारतीय कप्‍तानी विराट कोहली की पत्‍नी को लेकर की गई टिप्‍पणी के बाद उपजा विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. इस मामले में अनुष्‍का शर्मा के बाद अब मुख्‍य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की तरफ से भी बयान जारी किया गया है.

एमएसके प्रसाद ने कहा एक 82 साल के बुजुर्ग व्‍यक्ति के मुंह से इस तरह की बातें शोभा नहीं देती. उन्‍हाेंने इंजीनियर द्वारा तुच्छ बातों में उलझकर परपीड़ा सुख लेने की जमकर आलोचना की.

पढ़ें:- फारुख इंजीनियर के बयान से तिलमिलाई अनुष्‍का, बताया वर्ल्‍ड कप में चाय परोसे जाने का पूरा सच

पुणे में दिलीप वेंगसरकर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे फारुख इंजीनियर ने कहा था कि वर्ल्‍ड कप 2019 के दौरान मैंने चयन समिति के सदस्‍यों को अनुष्‍का शर्मा को चाय परोसते हुए देखा था.

इस मामले में अनुष्‍का शर्मा ने ट्विटर पर एक पत्र साझा करते हुए तीखी प्रतिक्रिया दी थी. एमएसके प्रसाद ने इस मामले में कहा, ‘‘मुझे उस व्यक्ति के लिये दुख होता है जो घटिया बातों में उलझकर परपीड़ा सुख लेता है, जिससे वह झूठे और तुच्छ आरोपों के माध्यम से भारतीय कप्तान की पत्नी और चयनकर्ताओं का अपमान और अनादर कर रहा है.’’

पढ़ें:- बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दी रवि शास्त्री को ये नई जिम्मेदारी

eq[मुख्‍य चयनकर्ता ने कहा, ‘‘हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि इस चयन समिति को बीसीसीआई ने आम सालाना बैठक में उचित प्रक्रिया से नियुक्त किया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘एक 82 साल के व्यक्ति को परिपक्वता दिखानी चाहिए और उन्‍हें भारतीय क्रिकेट के अपने दौर से आज तक हुई प्रगति का लुत्फ उठाना चाहिए.’’