नई दिल्ली. एक बल्लेबाज इंटरनेशनल क्रिकेट मे कदम रखता है. इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम के खिलाफ डेब्यू करता है और फिर शतक या दोहरा शतक नहीं तिहरा शतक जड़ता है. लेकिन, इसके इनाम के तौर पर उसे टीम से बाहर कर दिया जाता है. भारतीय क्रिकेट में अब तक जिन 2 बल्लेबाजों ने टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जड़ा है उनमें एक करूण नायर हैं. पर इसके बावजूद नायर कभी भारत की टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं बनते और जब बनते हैं तो प्लेइंग XI में जगह नहीं बना पाते. इंग्लैंड दौरे पर छोटे कद काठी वाले मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज नायर के साथ ऐसा ही देखने को मिला. वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के लिए जब टीम इंडिया का सलेक्शन हुआ तो उसमें से भी करूण नायर का नाम नदारद रहा. करूण के सलेक्शन न होने से सवाल उठने शुरू हो गए. Also Read - गावस्‍कर ने क्‍यों कहा CSK को अन्‍य टीमों के मुकाबले हर मैच में बनाने होंगे 10-15 अतिरिक्‍त रन ?

एमएसके प्रसाद का जवाब Also Read - नो बॉल की तरह बल्लेबाज के क्रीज से निकलने पर भी नजर रखें थर्ड अंपायर : सुनील गावस्कर

करूण के सलेक्शन न होने को लेकर जब आरोपों के तीर भारतीय सलेक्शन कमिटी को चुभने शुरू हो गए तो आखिरकार चीफ सलेक्टर एमएसके प्रसाद को इसकी वजह बतानी पड़ी. एसएसके प्रसाद ने कहा, ” सलेक्टर दिवांग गांधी ने इंग्लैंड में ही करूण से कह दिया था कि वो अपना मनोबल बनाए रखें. वेस्टइंडीज के खिलाफ टीम सलेक्शन के बाद मैंने भी करूण से यही बात कही. मैंने उनसे उनके सलेक्ट न होने की वजह भी बताई. मैंने कहा कि हम घरेलू सीरीज में ज्यादा बड़ी टीम नहीं चुन सकते. लिहाजा उन्हें प्लेइंग XI में अपने मौके का इंतजार करना पड़ेगा.” Also Read - रोहित शर्मा ने भारतीय बल्‍लेबाजों को सिखाया कैसे लगाया जाता है पुल शॉट : सुनील गावस्‍कर

गावस्कर सहित कई दिग्गजों ने उठाए सवाल

बता दें कि करूण नायरके वेस्टइंडीज के खिलाफ टीम में जगह न मिलने को लेकर सुनील गावस्कर सवाल उठा चुके हैं. उन्होंने कहा था कि करुण नायर ने ऐसा क्या नहीं किया है जिसकी वजह से उन्हें जगह नहीं मिली? बस इतना ही समझ में आता है कि वह आपका पसंदीदा खिलाड़ी नहीं है.आप उसे चुनना नहीं चाहते हैं. गावस्कर ने कहा था कि ऐसा लगता है कि टीम प्रबंधन करुण नायर को नहीं चाहता है. यही कारण है कि उन्हें इस मैच में खेलने का मौका नहीं दिया गया है. अब तक कितने भारतीय बल्लेबाजों ने तिहरे शतक लगाए हैं.वीरेंद्र सहवाग ने दो बार और नायर ने एक बार. आप उस खिलाड़ी को मौका नहीं देना चाहते हैं जो सहवाग के बाद तिहरा शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज है.कमेंटेटर आकाश चोपड़ा और हर्षा भोगले ने भी टीम में चुने जाने के बावजूद करुण नायर को प्‍लेइंग इलेवन में जगह नहीं देने पर हैरानी जताई थी.

नायर का करियर

26 नवंबर 2016 को मोहाली में इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट डेब्‍यू करने वाले करुण नायर ने अब तक छह टेस्‍ट में 62.33 के औसत से 374 रन बनाए हैं , इसमें नाबाद 303 रन उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर है.