नई दिल्ली : टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच वनडे सीरीज का तीसरा मैच पुणे में खेला जा रहा है. इसमें भारत ने टॉस जीतकर पहले बॉलिंग का फैसला लिया. टॉस के बाद कप्तान विराट कोहली ने मैच रैफरी क्रिस ब्रॉड को एक खास मोमेंटो भेंट किया. आईसीसी एलीट पैनल के मैच रैफरी ब्रॉड शनिवार को भारत और वेस्टइंडीज बीच खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच के दौरान 300 इंटरनेशनल वनडे मैच पूरे करने वाले दूसरे मैच रैफरी बन गये है.

इंग्लैंड के ब्रॉड ने रैफरी के तौर पर अपने कैरियर की शुरूआत 2004 में ऑकलैंड से की थी. इस मामले में श्रीलंका के रंजन मदुगले उनसे आगे है जिन्होंने 336 इंटरनेशनल वनडे मैचों में रैफरी की भूमिका निभाई है. इस सूची में तीसरे स्थान पर न्यूजीलैंड के जेफ क्रो है जो 270 वनडे में मैच रैफरी रहे है. भारत के जवागल श्रीनाथ ने 212 और संन्यास ले चुके श्रीलंका के रोशन महानामा ने 222 मैचों में यह भूमिका निभाई है.

धोनी ने विकेट के पीछे दिखाई बिजली जैसी तेजी, हेटमायर को किया स्टंप आउट – VIDEO

ब्रॉड ने इसके अलावा 98 टेस्ट मैचों में भी रैफरी की भूमिका निभाई है और वह अगले साथ टेस्ट मैचों का सैकड़ा पूरा करने वाले दूसरे रैफरी बनेंगे. यहां भी पहले स्थान पर मदुगले है. ब्रॉड ने कहा, ‘‘इतनी लंबी अवधि तक इस खेल के साथ सक्रिय रूप से जुडे होने पर खुद को सम्मानित और अविश्वसनीय रूप से भाग्यशाली मान रहा हूं. 300 मेरे लिए सिर्फ आंकड़ा नहीं है लेकिन यह उनकी भी कहानी है जिन्होंने इसमें योगदान दिया ताकि मै अपने सपने को पूरा कर सकूं.’’

देखें वीडियो :

ब्रॉड ने 1984 से 1989 तक इंग्लैंड के लिए 25 टेस्ट और 34 एकदिवसीय मैचों में खेला है. क्रिस ब्रॉड इंग्लैंड के मौजूदा टेस्ट टीम के नियमित सदस्य तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के पिता है.