नई दिल्ली: प्रशासकों की समिति (सीओए) ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (Delhi and District Cricket Association) के अध्यक्ष रजत शर्मा (Rajat Sharma) से डीडीसीए के निदेशकों द्वारा की गई शिकायतों का जवाब मांगा है. डीडीसीए के निदेशकों ने समिति से संघ के कामकाज को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी. बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि सीओए ने डीडीसीए के निदेशकों और सदस्यों से मिली शिकायतों के बाद शर्मा को पत्र लिखा था लेकिन उसका जवाब अभी तक नहीं आया है.Also Read - DDCA अध्यक्ष रजत शर्मा का इस्तीफा मंजूर, लोकपाल ने पद छोड़ने की दी अनुमति

अधिकारी ने कहा, “सीओए ने शर्मा को एक पत्र लिखा है जिसमें डीडीसीए के निदेशकों और सदस्यों द्वारा दाखिल की गई शिकायतों को लेकर पूछा गया है. उनसे कामकाज को लेकर चल रही स्थिति के बारे में पूछा गया है. किसी भी राज्य संघ में अगर कोई समस्या होती है तो सीओए उस संबंध में पत्र लिखती है तो संघ उसका जवाब देती है, लेकिन डीडीसीए ने इसका जवाब नहीं दिया है जबकि उनको मेल 20 सिंतबर को भेजा गया था.” Also Read - DDCA के अध्यक्ष पद से रजत शर्मा ने दिया इस्तीफा, कहा- सिद्धांतों के विपरीत काम नहीं हो सकता

डीडीसीए के निदेशक संजय भारद्वाज ने सीओए को नौ सिंतबर को पत्र लिखा था और कहा था कि समिति डीडीसीए को सुप्रीम कोर्ट के आदेश को नजरअंदाज कर सविंधान बनाने देने की इजाजत दे आदेश का कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर रही है. उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी खामी बीसीसीआई में डीडीसीए का प्रतिनिधि नियुक्त करने को लेकर है. Also Read - DDCA के सदस्यों ने सीओए के चुनाव को ठहराया गलत, कहा दोबारा हो ये प्रक्रिया 

उन्होंने लिखा, “बीसीसीआई में डीडीसीए के प्रतिनिधि का नाम संघ की आम बैठक में पारित होता है, लेकिन इसे शीर्ष परिषद ने मंजूरी दी जिसके पास इसके अधिकार नहीं हैं.” उन्होंने शीर्ष परिषद में पूर्व खिलाड़ी की गैर मौजूदगी पर सवाल भी उठाए थे.