दक्षिण अफ्रीका में आजोयित हुए अंडर-19 विश्व कप (Under-19 World Cup 2020) में भले ही भारतीय टीम को फाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा हो लेकिन इस टूर्नामेंट में भारत के युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। अंडर-19 टीम के कोच पारस मम्ब्रे को यकीन है कि अपने प्रदर्शन के दम पर ये खिलाड़ी जल्द ही सीनियर राष्ट्रीय टीम में नजर आएंगे। Also Read - RCB के खिलाफ मैच में खास जूते पहनकर उतरे थे कप्तान रोहित शर्मा; जानें क्या था कारण

मम्ब्रे ने माना कि इस स्क्वाड के सभी खिलाड़ियों को शायद राष्ट्रीय टीम में जगह नहीं मिलेगी लेकिन कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना सकेंगे। Also Read - IPL 2021: कप्तान कोहली ने कहा- फ्रेंचाइजी की जरूरत को अच्छे से समझते हैं हर्षल पटेल

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, “इस टीम के सभी खिलाड़ी देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर पाएंगे लेकिन कुछ लड़के ऐसे हैं जिनके पास अगले स्तर तक जाने की काबिलियित है। मुझे पूरा यकीन है कि आप इस टीम के कुछ नामों को सीनियर राष्ट्रीय टीम में देखेंगे। अगर आप काबिलियत की बात करें तो इस टीम के हर एक खिलाड़ी में अगले स्तर तक जाने की क्षमता है।” Also Read - IPL 2021- MI vs RCB: इन 5 वजहों से रॉयल चैलेंजर्स ने मुंबई इंडियंस को दी मात

मयंक अग्रवाल: विराट मुझे पहले ही साफ कर देते हैं कि 200 से कम रन बनाए तो काम नहीं चलेगा

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “जिस तरह से लड़कों ने पूरे टूर्नामेंट में खेला उस पर मुझे बहुत गर्व है। हमारे प्रदर्शन में निरंतरता थी और हमने बड़ी टीमों को हराया और फिर फाइनल में जगह बनाई। चाहे क्वार्टर फाइनल हो या फिर सेमीफाइन, दोनों ही बड़ी टीमें थी, लड़कों ने जिस तरह का फॉर्म दिखाया वो कमाल था। हमने टूर्नामेंट से कई सकारात्मक चीजें ली हैं।”

कोच ने आगे कहा, “फाइनल हमारे पक्ष में नहीं गया। बांग्लादेश अब कोई छोटी टीम नहीं है। वो एक अच्छी टीम हैं। वो हमेशा से ही प्रतिद्वंदी रहे हैं। जब आप फाइनल में पहुंचते हैं, आपको बड़ी और निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम बनना होगा। बांग्लादेश ने निरंतर अच्छा प्रदर्शन किया और खुद को अच्छी टीम साबित किया। हमारे लिए, ये एक खराब मैच था या फिर आप इसे खराब दिन कह सकते हैं। हम इससे कई सकारात्म चीजें ले सकते हैं। ये लड़के आगे तक जाएंगे। उन्होंने अपनी काबिलियत दिखाई है, ये शानदार है। इन लड़कों में आगे जाने और क्रिकेट के अगले स्तर पर चमकने की काबिलियित है।”