नई दिल्ली. टीम इंडिया की नजर अब श्रीलंका में होने वाले ट्राएंगुलर टी20 सीरीज पर टिकी है. ये सीरीज 6 मार्च से शुरू हो रही है जिसमें भारत और श्रीलंका के अलावा तीसरी टीम बांग्लादेश की है. धोनी, विराट की गैर-मौजूदगी में इस सीरीज के लिए टीम की कमान रोहित शर्मा को सौंपी गई है. इस टीम में शिखर धवन भी हैं. लेकिन, हेड कोच रवि शास्त्री ने अपना दांव किसी और खिलाड़ी पर लगाया है. ट्राएंगुलर T20 सीरीज से पहले उन्होंने उस क्रिकेटर को फीयरलेस बताकर श्रीलंका और बांग्लादेश के होश उड़ा दिए हैं. शास्त्री का ये तुरुप का इक्का कोई और नहीं बल्कि सुरेश रैना हैं. Also Read - विराट-अनुष्का ने किया PM-CARES फंड को दान देने का ऐलान, जानिए कितनी है रकम

फियरलेस क्रिकेटर है रैना- शास्त्री Also Read - मैं तो घर पर हूं लेकिन दिमाग वानखेड़े स्टेडियम में : सूर्यकुमार यादव

सुरेश रैना को लेकर कोच रवि शास्त्री ने कहा, ” रैना काफी अनुभवी हैं और एक अनुभवी खिलाड़ी क्या कर सकता है ये उन्होंने साउथ अफ्रीका में बखूबी दिखाया है. मुझे उनकी जो काबिलियत सबसे ज्यादा पसंद है वो है उनका फीयरलेस होना.” Also Read - ‘ट्रेसर बुलेट’ की तरह घूम रही COVID-19 महामारी से बचने के लिए घरों में रहें: रवि शास्त्री

शास्त्री का मतलब साफ है कि रैना डरते नहीं बल्कि विरोधी को डराने का हुनर रखते हैं. बता दें कि लंबे वक्त के बाद सुरेश रैना की साउथ अफ्रीका दौरे से भारतीय टीम में वापसी हुई है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 T20 मैचों की सीरीज में रैना ने खुद को प्रुफ किया है. T20 सीरीज के आखिरी मैच में वो तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे और 27 गेंदों पर 43 रन जड़कर भारत को सीरीज जीताने में निर्णायक भूमिका निभाई.

‘कमबैक सीरीज में की बेखौफ बल्लेबाजी’

शास्त्री ने कहा, ” रैना के अंदर गजब की इच्छाशक्ति है. आमतौर पर क्या होता है कि जब कोई खिलाड़ी लंबे अंतराल के बाद टीम में वापसी करता है तो वो अपनी जगह फिर से पक्की करने के दबाव तले खेलता है. लेकिन साउथ अफ्रीका में रैना ने ऐसा कभी नहीं किया और अपने चिरपरचित अंदाज में बल्लेबाजी की, जो देखकर अच्छा लगा. ”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 T20 मैचों की सीरीज में रैना ने 153.44 की स्ट्राइक रेट से 89 रन बनाए, जिसमें 12 चौके और 2 छक्के शामिल रहे. इस शानदार प्रदर्शन के दम पर रैना को श्रीलंका में खेली जाने वाली ट्राएंगुलर T20 सीरीज की टीम में भी चुन लिया गया है. हालांकि, रैना इतने पर ही नहीं मानने वाले. अब उनकी नजर वनडे में वापसी पर है. वो 2019 वर्ल्ड कप की टीम में अपनी जगह पक्की करने को बेताब हैं.

31 साल के रैना अपनी फिटनेस पर भी पूरा जोर दे रहे हैं. टीम में वापसी के बाद भी उनका फिटनेस से फोकस हटा नहीं है. अब अगर वो ऐसे ही फिट रहे तो मुमकिन है कि भारत की वनडे टीम में भी जगह बनाते हुए 2019 वर्ल्ड कप के लिए अपनी दावेदारी भी पेश कर सकते हैं.