मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि इंग्लैंड दौरे पर पांच टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले एकदिवसीय मैच खेलने से टीम को फायदा होगा क्योंकि इससे खिलाड़ियों को हालात से सामंजस्य बैठाने का समय मिलेगा. भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर टी 20 अंतरराष्ट्रीय, एकदिवसीय और फिर टेस्ट मैच खेलेगी. Also Read - IPL 2021, KKR vs MI: गेंदबाजी के दौरान Rohit Sharma के साथ हुआ हादसा, मुड़ी एड़ी, फिर...

शास्त्री ने एक किताब के लॉन्च के मौके पर कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल ( क्लार्क ) के साथ आज ही मैंने इस मुद्दे पर चर्चा की है कि हम पहला टेस्ट मैच शुरू होने से लगभग एक महीने पहले इंग्लैंड में होंगे. हम एक जुलाई के आस पास पहला एकदिवसीय मैच खेलेंगे पहला टेस्ट मैच एक अगस्त से शुरू होगा. इससे हमें अधिक समय ( टेस्ट के लिए तैयारी करने के लिए ) मिलेगा.’’ भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे की शुरूआत टी 20 मैचों से करेगी जो तीन जुलाई से खेले जाएंगे. Also Read - IPL 2021, KKR vs MI, Live: मुंबई इंडियंस के साथ मैच में 7 साल बाद हुआ कुछ ऐसा, नहीं की थी कल्‍पना

शास्त्री के साथ रोहित शर्मा , दिग्गज खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और क्लार्क बोरिया मजूमदार की किताब ‘‘इलेवन गॉड्स एंड ए बिलियन इंडियन्स : द ऑन एंड ऑफ द फील्ड स्टोरी ऑफ क्रिकेट इन इंडिया एंड बियोन्ड’’ के लॉन्च के मौके पर मौजूद थे. Also Read - IPL 2021, MI vs KKR: आंद्रे रसेल के धमाकेदार 5-विकेट हॉल के सामने 152 पर सिमटी मुंबई इंडियंस

शास्त्री इस बात को लेकर खुश दिखे कि दक्षिण अफ्रीका दौरे की तरह अन्य विदेशी दौरों पर टेस्ट मैच से पहले परिस्थितियों के अनुकूल ढलने में समय की कमी के मुद्दे को बीसीसीआई और प्रशासकों की समिति ( सीओए ) ने सुलझा दिया है. उन्होंने कहा , ‘‘बीसीसीआई और सीओए के प्रति निष्पक्ष रहूं तो ऐसी योजना पहले ही बना ली गई है. लेकिन ऐसी योजनाओं के लिए आप को 2019 तक इंतजार करना होगा जब नया भविष्य दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) लागू होगा.’’

इस मौके पर शास्त्री ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टीम ने जैसा प्रदर्शन किया उस पर उन्हें फख्र है. उन्होंने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले मैंने साफ तौर पर कहा था कि अगले 15 महीने में इस टीम की रूपरेखा तय होगी. टीम के खिलाड़ियों ने वहां जैसा प्रदर्शन किया, कोच के तौर पर मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. दौरे पर 21 दिन क्रिकेट खेला गया था (टेस्ट, एकदिवसीय और टी 20 मिलाकर) और हर दिन हमारे खिलाड़ियों ने उन्हें टक्कर दी.’’

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट और एकदिवसीय टीम का हिस्सा रहे रोहित शर्मा ने कहा कि टीम आगे भी आक्रमक क्रिकेट खेलना जारी रखेगी. उन्होंने कहा, ‘‘हमने दक्षिण अफ्रीका में जैसा प्रदर्शन किया वह दिखाता है कि टीम अगले कुछ वर्षों में कैसा खेलेगी, कम से कम विश्व कप तक. हम मैदान में खुलकर खेलना चाहते हैं. हम ने अपनी गलतियों से सीख ली है और जब दक्षिण अफ्रीका गए तो उसमें सुधार किया. इसलिए सभी खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया.