भारत के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजी अटैक का हिस्सा- उमेश यादव का कहना है कि भारती गेंदबाजों ने ये उपलब्धि कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली के प्रोत्साहन के दम हासिल किया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में इस तेज गेंदबाज ने कहा, “रवि सर ने हमें सर्वश्रेष्ठ कहा है क्योंकि उन्होंने हमें नेट्स में पसीना बहाते हुए देखा है। हमारे कोच और कप्तान ने हम पर विश्वास दिखाया है और हमारा मार्गदर्शन किया है। उन्होंने हमें प्रोत्साहित किया, जिसकी वजह से ही हम ने ‘विश्व में सर्वश्रेष्ठ’ होने का तमगा हासिल किया है। ये हमारे लिए बड़ी बात है। हम ये सुनिश्चित करेंगे कि जब भी हम मैदान पर उतरें और अपने देश का प्रतिनिधित्व करें तो हम इस तमगे को फिर से कमाएं।”

यादव ने आगे कहा, “मुझे इस पेस अटैक का हिस्सा बनने पर बहुत गर्व है। सबसे अच्छी बात ये है कि हम चारों- जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और मैं 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने की क्षमता रखते हैं। हम सभी के अंदर किसी भी स्थिति में प्रदर्शन करने की काबिलियत है। चाहे कोई भी हालात या स्थिति हो, हम प्रदर्शन करेंगे। यही चीज हमें बाकियों से अलग बनाती है। बुमराह, शमी, इशांत और मैं एक दूसरे कंपनी को इंज्वाय करते हैं। हम तादाम्य में गेंदबाजी करते हैं।”

उमेश फिलहाल न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज की तैयारी में लग रहे हैं। अपने प्रदर्शन में आए बदलाव पर यादव ने कहा, “जिस उमेश यादव को आपने 10 साल पहले देखा, मैं वही उमेश यादव हूं। केवल मैचों की संख्या और विकेट बढ़ गए हैं। मैं उसी जुनून के साथ गेंदबाजी करता हूं। आप जितना गेंदबाजी करते हैं, उतना सीखते हैं।”