कोरोनावायरस के कारण दुनिया भर में इस समय खेल की लगभग सभी प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. खिलाड़ी इस समय अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. खिलाड़ियों को आउटडोर प्रैक्टिस नहीं मिल रही है. ऐसे में उन्हें अपने घर में ही रहकर खुद को फिट रखने की बड़ी चुनौती है. भारत के प्रो बॉक्सर विजेंदर सिंह को भी कोविड-19 के कारण अपनी सारी योजनाएं रद्द करनी पड़ी लेकिन उन्हें साल के अंतिम छह महीनों में रिंग में उतरने और अपना पेशेवर करियर फिर से शुरू करने की उम्मीद है. Also Read - Coronavirus In World Update: पूरी दुनिया कोरोना के खौफ में, अमेरिका में मौत का आंकड़ा 1 लाख के करीब, जानें बड़े देशों का हाल

विजेंदर प्रो सर्किट में अब तक अजेय हैं और उन्होंने अपने सभी 12 मुकाबले जीते हैं. उनका अमेरिका के बॉब आरुम के टॉप रैंक प्रमोशन्स के साथ अनुबंध है. अमेरिका भी अभी इस घातक महामारी की चपेट में है जिससे वहां लगभग 10,000 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. Also Read - लॉकडाउन को फेल बताने पर राहुल गांधी पर बीजेपी का पलटवार: झूठ नहीं फैलाएं, दुनिया के आंकड़े देखें

…तो क्या Coronavirus बदल देगा क्रिकेट, टेनिस और फुटबॉल खिलाड़ियों की वर्षों पुरानी आदतें Also Read - बढ़ते लॉकडाउन और कोरोना के प्रभाव से परेशान हो गए हैं रणवीर सिंह, बोले- तबाह कर देने जैसा है

मुक्केबाजी में भारत के पहले ओलंपिक पदक विजेता 34 वर्षीय विजेंदर ने पीटीआई से कहा, ‘मुझे मई में मुकाबले में उतरना था लेकिन वर्तमान स्थिति देखते हुए उसे रद्द कर दिया गया है. मुझे हालांकि उम्मीद हैं कि चीजों में सुधार होगा और साल के आखिर में मुझे मुकाबले में उतरने का मौका मिलेगा. मुझे लगता है कि ऐसा होगा. निश्चित तौर पर मुझे नुकसान हुआ है लेकिन कुछ नहीं किया जा सकता है. ऐसे में शांतचित रहने और चीजों के सामान्य होने का इंतजार करना ही उचित है.’

विजेंदर ने कहा कि वह सुरक्षित रहकर दिल्ली में अपने आवास पर लगातार अभ्यास कर रहे हैं. बकौल विजेंदर, ‘मेरे घर में सब कुछ है और मुझे बाहर जाने की जरूरत नहीं है. मैं खुद ही अभ्यास करता हूं जो कि असामान्य नहीं है क्योंकि मुझे तभी ट्रेनर का साथ मिलता है जब मैं इंग्लैंड में होता हूं.’

कोहली, सुरेश रैना समेत कई भारतीय खिलाड़ियों ने मोमबत्ती और दीपक जलाकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता दिखाई

विजेंदर के ट्रेनर मैनचेस्टर के ली बीयर्ड है जिन्हें मुकाबले से कुछ दिन पहले उनसे जुड़ना था.इस मुक्केबाज ने कहा, ‘मुकाबला जब भी शुरू होगा मैं उसके लिए खुद को तैयार रखना चाहता हूं. मैं घर पर तैयारियां कर रहा हूं क्योंकि आप किसी भी तरह से बाहर नहीं निकल सकते हैं.’

गौरतलब है कि कोविड-19 की चपेट में आकर भारत में अब तक 100 से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवा दी है वहीं इससे संक्रमित मरीजों की संख्या लगभग 4000 हो गई है.