भारत में अब तक कोरोना वायरस के 29 मामले सामने आ चुके हैं। इस वायरस से पूरी दुनिया में अब तक 3000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है और 90,000 से ज्यादा लोग इसकी चपेट में हैं। खेल मंत्री कीरेन रीजीजू ने खतरनाक कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते गुरुवार को देश के खिलाड़ियों को चेताया और ज्यादा एहतियात बरतने की सलाह देते हुए कहा कि उन्हें लोगों से मिलते समय हाथ मिलाने और करीबी संपर्क से बचना चाहिए। Also Read - IPL आयोजन पर बोले रिजिजू- खेल प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए देशवासियों को खतरे में नहीं डाल सकते

कोरोना वायरस के समय क्रिकेट : ‘अगर ओलंपिक हो सकता है तो फिर IPL क्यों नहीं’ Also Read - COVID-19: लॉकडाउन के बावजूद आउटडोर प्रैक्टिस करना चाहती हैं स्प्रिंटर हिमा दास, खेलमंत्री को लिखा पत्र

रीजीजू ने ट्वीट किया, ‘मैं अपने खिलाड़ियों और आम नागरिकों को भी लोगों से मिलते समय सतर्क रहने की सलाह दूंगा। कभी-कभार हाथ मिलाना या गले लगाना बिल्कुल जरूरी नहीं होता। हम अपने पारपंरिक अभिवादन के तरीके जैसे नमस्ते, सलाम, जय हिंद और कई अन्य स्थानीय शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं।’ Also Read - कोरोना के खिलाफ शुरू हुई जंग में अब खेल मंत्री रिजिजू ने बढ़ाए मदद के हाथ, दान किए इतने करोड़


इंडिया ओपन 2020 टूर्नामेंट पर भी कोरोना वायरस का खतरा, सरकार के संपर्क में भारतीय बैडमिंटन संघ

सरकार पहले ही कह चुकी है कि खिलाड़ियों के स्वास्थ्य को सर्वोपरि रखना चाहिए और उसने राष्ट्रीय खेल महासंघों को कहा है कि कोरोना वायरस के चलते उन्हें खिलाड़ियों के टूर्नामेंट में भाग लेने और ट्रेनिंग कार्यक्रम की योजना बनाने में सतर्कता बरतनी चाहिए।